Read latest updates about "सिद्धार्थनगर" - Page 1

  • अपनी ग्राम पंचायत को चमकाने के लिए यूपी के इस प्रधान को मिलेंगे देश के दो बड़े अवार्ड

    देश के सबसे पिछड़े दस जिलों में शामिल सिद्धार्थनगर जिले की ग्राम पंचायत हसुड़ी औसानपुर को पंचायती राज दिवस पर देश के दो सर्वश्रेष्ठ पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा। दिलीप त्रिपाठी देश के पहले ग्राम प्रधान होंगे जिन्हें ये दोनों पुरस्कार एक साथ दिए जा रहे हैं। सिद्धार्थनगर (उत्तर प्रदेश)।...

  • यहां नेपाली नागरिक तय करेंगे भारतीयों का चेयरमैन

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कबढ़नी (सिद्धार्थनगर)। नेपाल सीमा से सटे भारतीय कस्बे बढ़नी में नेपाली नागरिक यहां का चेयरमैन चुनते हैं। भारत की मतदाता सूची में फर्जी तरीके से नाम डलवाने के अलावा ये नेपाली नागरिक भारतीय योजनाओं का लाभ भी उठाते हैं।नेपाल सीमा से सटे सिद्धार्थनगर का बढ़नी कस्बा सुरक्षा की दृष्टि...

  • सिद्धार्थनगर : बाढ़ प्रभावित गाँवों में गाँव कनेक्शन ने मनाई दीपावली 

    सिद्धार्थनगर। गाँव कनेक्शन फाउंडेशन ने इस बार दीपावली गाँव में अभावग्रस्त लोगों के बीच मनाने का निर्णय लिया। इसी क्रम में आज जनपद के बाढ़ प्रभावित बढ़नी ब्लॉक के ग्राम खैरी शीतल प्रसाद में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में राष्ट्रीय ग्रामीण युवा समाज सेवा संघ के सहयोग से ग्रामीणों के बीच...

  • ऐतिहासिक कदम- अब ग्रामीण खुद ही बनाएंगे अपने गाँव की योजना 

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कसिद्धार्थनगर। 14वें वित्त आयोग के निर्देश को मानते हुए सरकार ने ग्राम पंचायत विकास योजना को ज़मीन पर उतारने की शुरुआत कर दी है। इस योजना के लागू हो जाने से अब गाँव के वंचित लोग ग्राम पंचायत की कार्ययोजना में शामिल होकर अपनी समस्याओं को हल कर सकते हैं।दरअसल 14वें वित्त आयोग की...

  • बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे आया टाटा ट्रस्ट, सिद्धार्थनगर में बांटी दवाइयां और राहत सामग्री

    सिद्धार्थनगर। बाढ़ पीड़ित जिले में लोगों की मदद के लिए टाटा ट्रस्ट आगे आया है। टाटा ट्रस्ट और स्वाभिमान समिति की ओर से सात सितम्बर से लगातार बाढ़ पीड़ितों के लिए स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जा रहा है, जिसका उद्देश्य बाढ़ पीड़ितों को संक्रामक बीमारियों से बचाना है।शिविर मेें बाढ़ पीड़ितों को देखती...

  • जगह-जगह कूड़े का अंबार, राह चलना मुश्किल

    स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्टशोहरतगढ़ (सिद्धार्थनगर)। उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार स्वच्छ यूपी- स्वस्थ यूपी के नारे के साथ दो सप्ताह तक स्वच्छता अभियान चलाया। स्वच्छता व सफाई पर जोर देने वाली सरकार के छोटे से नगर पंचायत शोहरतगढ़ में अभियान चला ही नहीं। इसके चलते पूरा कस्बा गंदगी की चपेट में है। जगह- जगह...

  • स्टेशन मार्ग जगमग, गाँव के हर कोने में पहुंची रोशनी

    स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्टशोहरतगढ़ (सिद्धार्थनगर)। रोशनी को लेकर जद्दोजहद कर रहा आदर्श रेलवे स्टेशन, शोहरतगढ़ मार्ग जगमग हो गया है। गाँव के हर कोने को अंधेरे से रोशनी में तब्दील कर दिया गया है। अंधेरे की मार झेल रहे शोहरतगढ़ ब्लाक क्षेत्र के गड़ाकुल ग्राम सभा में यह तब्दीली गाँव कनेक्शन अखबार में छपी...

  • सिद्धार्थनगर में बाढ़ के बीच जाकर मुख्यमंत्री योगी ने समझा पीड़ितों का दर्द

    सिद्धार्थनगर। तराई बेल्ट सिद्धार्थनगर में बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ को देख लोगों का दर्द झलक पड़ा और आंखों में आंसू आ गए। योगी ने उन्हें संभव मदद का भरोसा दिलाया। सीएम ने बाढ़ प्रभावित गाँवों में हेलीकॉप्टर से लंच पैकेट पहुंचाने का आदेश देते हुए लापरवाही करने वालों को गंभीर...

  • आधार कार्ड के बिना मुश्किल में नेपाली छात्र

    स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्टशोहरतगढ़। माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा नए सत्र में बिना आधार कार्ड के प्रवेश पर लगी रोक चलते मित्र राष्ट्र नेपाल के छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया है। बिन आधार कार्ड के प्रवेश लेने के इच्छुक हजारों छात्र रजिस्ट्रेशन की इंतजारी में दिन काट रहे हैं।बार्डर क्षेत्र के इलाकों...

  • सिद्धार्थनगर: रेलवे कॉलोनियों की छतों से टपक रहा पानी 

    स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्टशोहरतगढ़। आदर्श रेलवे स्टेशन शोहरतगढ़ के रेलवे कॉलोनी का हाल बेहाल है। मरम्मत के अभाव में छतों से पानी टपक रहा है तो कहीं दीवारों में दरारें पड़ गई हैं। विभागीय लापरवाही से परेशान रेलवे कर्मी अब रेलमंत्री सुरेश प्रभु से पत्राचार कर कॉलोनी की मरम्मत की गुहार लगाने की तैयारी कर...

  • बस्ती : सैकड़ों परिवारों का कोई स्थाई पता नहीं 

    दिलीप पाण्डेय, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कबढनी (सिद्धार्थनगर)। नगर पंचायत बढ़नी क्षेत्र में दशकों से बसा एक टोला आज भी मूलभूत सुविधाओं से अछूता है। अजय आरा मशीन के सामने आंनदपुर धाम से लेकर मौर्या होटल तक बसे सैकड़ों घरों के लोग न बढ़नी शहरी में दर्ज हैं न बढ़नी ग्रामीण में। ये लोग सिर्फ मतदान से ही...

  • गाँव कनेक्शन की मुहिम ने यहाँ बदल दी माहवारी को लेकर ग्रामीण महिलाओं की सोच

    सिद्धार्थनगर। कुछ वक्त पहले तक जिन ग्रामीण महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन ख़रीदना गैर ज़रूरी लगता था, गाँव कनेक्शन द्वारा चलाए गए माहवारी जागरूकता कार्यक्रम के बाद अब उनमें एक बदलाव आया है। ये महिलाएं अब माहवारी के दिनों में सैनिटरी नैपकिन की अहमियत को समझ गई हैं। गाँव कनेक्शन की इस मुहिम को चलाने वाली...

Share it
Share it
Share it
Top