दो अक्टूबर से शुरू होगा लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे

दो अक्टूबर से शुरू होगा लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वेgaonconnection

लखनऊ। “प्रदेश के 50 महिला चिकित्सालयों में निर्माणाधीन 100 बिस्तरों वाले प्रसूता विभाग में से 43 के निर्माण कार्यों को आगामी 31 अक्टूबर तक निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराया जाए।” ये निर्देश मुख्य सचिव आलोक रंजन ने दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि दो अक्टूबर को लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे का शुभारंभ होगा।

उन्होंने कहा, “निर्माणाधीन 21 ट्रॉमा सेण्टरों में से क्रियाशील कराये जा चुके 20 ट्रॉमा सेण्टरों के कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण महानिदेशक चिकित्सा स्वयं कर यह सुनिश्चित करायें कि पीड़ित व्यक्तियों को समय से चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध हों।” उन्होंने निर्माणाधीन लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे तथा इनर रिंग रोड आगरा का निर्माण कार्य निर्धारित अवधि में पूर्ण कराते हुये आगामी दो अक्टूबर को शुभारम्भ कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इनर रिंग रोड आगरा परियोजना अन्तर्गत सड़क का निर्माण कार्य पूर्ण कराने के साथ-साथ यमुना ब्रिज एवं आरओबी का निर्माण कार्य सितम्बर तक अवश्य पूर्ण करा लिया जाए। उन्होंने अतरौलिया, गोरखपुर, संतरविदास नगर, डिबाई बुलन्दशहर और कुमारगंज फैजाबाद में निर्माणाधीन 100 शैय्या चिकित्सालयों की सभी तैयारियां पूर्ण कराकर मुख्यमंत्री से लोकार्पण कराने के लिए समय लिये जाने के निर्देश दिये। 

मुख्य सचिव शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रोजेक्ट मॉनीटरिंग ग्रुप की बैठक कर परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्माणाधीन जय प्रकाश नारायण अन्तर्राष्ट्रीय केन्द्र का निर्माण कार्य 31 अक्टूबर तक पूर्ण कराने के साथ-साथ उसमें निर्माणाधीन म्यूजियम ब्लाक का निर्माण कार्य वर्तमान माह 30 जून तक पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने पुराने लखनऊ में चल रहे विकास कार्यों का निरन्तर अनुश्रवण कर निर्धारित माइल स्टोन के अनुसार पूर्ण कराने हेतु सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये। 

उन्होंने लखनऊ हॉट अवध शिल्प ग्राम योजना एवं आगरा में कैफे स्ट्रीट का निर्माण कार्य भी निर्धारित अवधि में पूर्ण कराने के निर्देश दिये। रंजन ने जिला मुख्यालय को फोरलेन सड़कों से जोड़े जाने के निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि बांदा, चित्रकूट तथा देवरिया मार्ग को जोड़ने वाली सड़क का कार्य आगामी 30 जून तक गुणवत्ता के साथ अवश्य पूर्ण करा लिया जाए।  

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top