चीन की बौद्ध संस्था मीडिया पर करेगी मुकदमा  

चीन की बौद्ध संस्था मीडिया पर करेगी मुकदमा  बौद्ध धर्म की छवि को बिगाड़ने का मीडिया पर लगा आरोप।

बीजिंग (भाषा)। चीन की एक बौद्ध संस्था ने मीडिया नेटवर्कों और इंटरनेट प्रयोगकर्ताओं को अदालत में घसीटने का फैसला किया है। संस्था का आरोप है कि ये सभी बौद्ध धर्म की छवि को बिगाड़ रहें हैं। संस्था ने यह फैसला मीडिया के जरिए एक वीडियो दिखाए जाने और उसे साझा किए जाने पर लिया है जिसमें एक नन की शादी के जश्न को गलत तरीके से दिखाया गया है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

शांक्सी राज्य के वुताइशन बुद्धिस्ट एसोसिएशन (डब्ल्यूबीए) ने मीडिया पर आरोप लगाया है कि मीडिया ने एक वीडियो कजारी किया है जिसकी वजह से बौद्ध धर्म की तस्वीर को गलत दिखा रहा है। इस वीडियों में बाल मुंडवाई हुई महिलाएं लबादा पहने हुए होटल में नजर आ रही हैं जिसे साइना वाइबो (चीन में ट्विटर जैसा सोशल साइट है) पर 10 लाख से ज्यादा लोगों ने देखा है।

डब्ल्यूबीए ने शनिवार को वीचैट पर जारी एक बयान में कहा कि ये मेहमान दरअसल ‘वुशिंग्बी’ नामक एक योजना के सदस्य थे, जो अपने सिर मुंडवाते हैं और उनका पार्टी से कोई मतलब नहीं है। उनका कहना है कि वीडियो अपलोड करने वालों ने उनके नाम का इस्तेमाल इसलिए किया जिससे क्लिक हासिल किए जा सकें।

सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक संस्था ने कहा कि उसने पहले ही वकीलों को ये निर्देश दे दिए हैं कि वे दोषियों से इस वीडियो को हटाने, माफी मांगने और मुआवजा देने के लिए कहें। डब्ल्यूबीए के वकील वी हैशेंग ने बताया कि संस्था ने जन सुरक्षा ब्यूरो में इस मामले को दर्ज करा दिया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top