अमेरिका : सिखों को धमकाने, परेशान किए जाने के मामलों में वृद्धि

अमेरिका : सिखों को धमकाने, परेशान किए जाने के मामलों में वृद्धिहाल में ही कई घटनाओं में सिखों को प्रेषण किया गया है।

वाशिंगटन (आईएएनएस)। अमेरिका में भारतीय अमेरिकियों के खिलाफ बढ़ रहे घृणा अपराधों के बीच यहां सिख समुदाय के खिलाफ हिंसक धमकियों और परेशान किए जाने की घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है। यह जानकरी एबीसी टेलिविजन नेटवर्क से जुड़े दिइंडी चैनल डॉट काम की रिपोर्ट में सामने आया है.

सिख राजनीतिक कार्रवाई समिति (सिखपीएसी) के अध्यक्ष गुरिंदर सिंह खालसा ने कहा कि अब तक तो जान से मारने की धमकी मिली है और इंडियाना राज्य में सिखों के खिलाफ तोड़फोड़ की दो रिपोर्ट मिली हैं। रिपोर्ट के अनुसार, एक मामले में फिर शहर में एक सिख को जान से मारने की धमकी मिली है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्होंने कहा, "किसी अज्ञात व्यक्ति ने सिख को बंदूक दिखाया और कहा, तुम कौन हो? किस देश से हो? खालसा ने कहा कि अन्य घटनाएं भी हुई हैं जिसमें सिखों को धमकी दी गई है।’’

सिख अमेरिकी चिकित्सक अमनदीप सिंह ने कहा कि उन्हें बीते सप्ताह एक टेक्स्ट मेसेज के जरिए सीधे तौर पर धमकी दी गई। उन्होंने कहा कि वह समझ नहीं पा रहे हैं कि देश भर में सिखों के साथ यह क्यों हो रहा है। सिंह ने कहा कि धमकी के बाद वह अपने परिवार और मरीजों को लेकर डरे हुए थे।

अमनदीप ने कहा, "डर में खास तौर से जब आप परिवार वाले हो तो अपने परिवार और बच्चों की चिंता दिमाग में सबसे पहले आती है। मैं यहां करीब 14 सालों से रह रहा हूं। इससे पहले कभी इस तरह का अहसास नहीं हुआ।"

उन्होंने कहा, "मेरा कार्य लोगों की सेवा करना है, हर रोज यहां मैं लोगों के लिए उनके साथ खड़ा हूं और समुदाय की सेवा कर रहा हूं। इस तरह की बात किसी के दिमाग में आने की बात सोचना मेरी लिए मुश्किल था।"

सिखपीएसी ने अमेरिकी अटॉर्नी जनरल कार्यालय से संपर्क किया और कानून प्रवर्तन के साथ कार्य कर रहा है। धमकियों की जांच की जा रही है। रिपोर्ट में कहा गया कि इंडियाना अमेरिका के पांच राज्यों में से एक है जिसमें घृणा अपराध कानून नहीं है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top