पहली बार किसी महिला ने संसद में कराया स्तनपान, रचा इतिहास

Anusha MishraAnusha Mishra   11 May 2017 8:07 AM GMT

पहली बार किसी महिला ने संसद में कराया स्तनपान, रचा इतिहासलारिसा वॉटर्स

मेलबर्न। यूं तो अपने बच्चे के लिए सभी के मन में प्यार होता है लेकिन ऑस्ट्रेलियाई संसद में ममता की एक नई मिसाल देखने को मिली। लारिसा वॉटर्स संसद में कारवाई के दौरान अपनी दो माह की बच्ची आलिया जॉय को स्तनपान करने वाली पहली ऑस्ट्रेलिया सांसद बन गई हैं।

आस्ट्रेलिया की वामपंथी ग्रीन्स पार्टी की सांसद वॉटर्स अपने काम के प्रति काफी ईमानदार हैं लेकिन इसके साथ-साथ वह अपने मां होने की जिम्मेदारी को भी बखूबी समझती हैं। मां बनने के दो महीने बाद ही वॉटर्स काम पर लौट आईं और अपनी बच्ची आलिया जॉय की देखभाल के लिए उसे भी सदन में साथ लाईं। सदन की कारवाई के दौरान ही बच्ची को भूख लग गई और वह रोने लगी तो वॉटर्स ने उसे दूध पिलाया। उनके इस कदम की हर तरफ प्रशंसा हो रही है।

अपनी प्रशंसा से खुश होकर वॉटर्स ने सोशल मीडिया पर लिखा - हमें अपने कार्यस्थलों को माओं की सुविधानुसार बनाने की जरूरत है। लेबर पार्टी की सांसद केटी गालाघेर ने इसे असाधारण क्षण बताया।

ऑस्ट्रेलिया के निम्न सदन 'ऑस्ट्रेलियन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव' में पिछले साल ही मां बनने वाली सांसदों को सदन की कारवाई के दौरान बच्चों को स्तनपान कराने की मंजूरी दी गई थी। हालांकि अब तक किसी ने ऐसा नहीं किया था। वॉटर्स ही पहली महिला सांसद हैं जिन्होंने अपनी बेटी को सदन में दूध पिलाया। सरकार में मंत्री केली ओड्वेयर ने 2015 में संसद में स्तनपान को मंजूरी देने की मांग उठाई थी ताकि सांसद अपने संसदीय कर्तव्यों को सुचारू रूप से निभा सकें। इससे पहले सासंदों को अपने बच्चों को सिर्फ ऑफिस ले जाने की अनुमति थी। हालांकि संसद के ऊपरी सदन सीनेट में 2003 से ही स्तनपान को मंजूरी मिल चुकी है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top