सीरिया के रक्का में 40,000 से ज्यादा बच्चों का जीवन खतरे में : यूनीसेफ  

सीरिया के रक्का में 40,000 से ज्यादा बच्चों का जीवन खतरे में : यूनीसेफ  रक्का में बमबारी (फ़ोटो साभार -नेट )

बेरत (एपी)। संयुक्त राष्ट्र की बच्चों के लिए काम करने वाली एजेंसी यूनीसेफ ने चेतावनी दी है कि उत्तरी सीरिया में इस्लामिक स्टेट के गढ़ रक्का के लिए चल रही लड़ाई से 40,000 से ज्यादा बच्चों की जिंदगी खतरे में है।

ये भी पढ़ें- चीन के राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा, “दंगल देखी है और पसंद आई”

यूनीसेफ ने आज एक बयान में कहा कि हिंसा से शहर में और उसके आसपास के इलाकों में बड़े पैमाने पर विस्थापन हुआ है। करीब 80,000 बच्चे विस्थापित हुए हैं और वे अ-स्थायी शिविरों में रह रहे हैं।

फ़ोटो साभार (इंटरनेट )

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

अमेरिका के समर्थन वाली सीरियाई सेना ने इस सप्ताह रक्का पर हमले शुरु किए और अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन के हवाई हमले तेज हो गए है।

ये भी पढ़ें- सुलगते मन्दसौर की कुछ ख़ास बातें, क्या आप जानते है ?

यूनीसेफ के क्षेत्रीय निदेशक गीर्ट कैप्पेलारी ने कहा, "अनुमानित 40,000 बच्चे रक्का में अत्यंत खतरनाक परिस्थितियों में फंसे हुए हैं। कई बच्चे दोनों ओर से हो रही लड़ाई में फंस गए हैं।" उन्होंने सभी पक्षों से अपील की है कि वह शहर छोड़कर जाने के इच्छुक लोगों को जाने दें।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top