दुनिया

मोदी का इजराइल दौरा: दोनों प्रधानमंत्रियों ने आतंकवाद से मिलकर लड़ने की कही बात

नई दिल्ली। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इजराइल यात्रा का दूसरा दिन है। आज पीएम अपने इजराइल के अपने समकक्ष बेंजामिन नेतन्याहू से मुलाकात करेंगे और द्विपक्षीय चर्चा करेंगे। जब से पीएम नरेंद्र मोदी इजरायल की धरती पर उतरे हैं तबसे उनकी औऱ इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के बीच की दोस्ती लगातार नए परवान चढ़ रही है।

यात्रा के पहले दिन आतंकवाद से मिलकर लड़ने की हुई बात

मंगलवार रात को दोनों ने साझा बयान में आतंकवाद के मुद्दे पर पर मिलकर लड़ने की बात कही, लेकिन इस बयान में सबसे ज्यादा ध्यान बेंजामिन नेतन्याहू के उस बयान ने खींचा जिसमें उन्होंने पीएम मोदी के योग की पहल की तारीफ की। मोदी ने भी भारत में नाम करनेवाले यहूदी समुदाय के मशहूर लोगों को याद किया।

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और उनकी पत्नी सारा ने प्रधानमंत्री आवास पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया

पीएम मोदी इजराइल यात्रा का पहला दिन

पीएम मोदी को रिसीव करने इजराइली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू खुद एयरपोर्ट आए। उन्होंने पीएम मोदी का स्वागत बड़े ही अनोखे अंदाज़ में किया। नेतन्याहू ने हिंदी में कहा, ‘आपका स्वागत है मेरे दोस्त।’ इसके बाद कल रात इजरायल के प्रधानमंत्री और उनकी पत्नी सारा नेतन्याहू ने कल रात पीएम मोदी की स्वागत में भव्य डिनर का आयोजन किया।

इजराइली पीएम ने मशहूर गणितज्ञ रामानुजन को याद किया

डिनर से पहले मोदी ने और नेतन्याहू ने एक साझा बयान दिया जिसमें नेतन्याहू ने मोदी की जमकर तारीफ की। भारतीयों की तारीफ में नेतन्याहू ने सबसे पहले मशहूर गणितज्ञ रामानुजन को याद किया। उन्होंने कहा, ‘हमारे मन में भारत के लोगों के लिए बहुत श्रद्धा है। मेरे चाचा स्वर्गीय प्रोफेसर एलिशा नेतन्याहू इजरायल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में गणितज्ञ थे। उन्होंने मुझे कई बार कहा था कि वो महान भारतीय गणितज्ञ रामानुजन का काफी सम्मान करते हैं। उनका कहना था कि रामानुजन 20वीं सदी के सबसे बड़े गणितज्ञ थे। इतना ही नहीं उनका कहना था कि रामानुजन पिछली कई सदियों के सबसे बड़े गणितज्ञ थे। ये भारत के लोगों की प्रतिभा का एक प्रतीक है।’

इजराइली पीएम ने की योग की तारीफ

साझा बयान में बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी की योग को लेकर पहल की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘मुझे ये बात स्वीकार करनी होगी कि योग के प्रति पीएम मोदी के उत्साह को देखकर मैं काफी प्रेरित हुआ हूं। इन्होंने मुझ से कहा है कि मैं हल्के योगासनों से शुरुआत करूं इसलिए मैं थोड़े आसान योगासानों से शुरुआत करूंगा। सुनिए हम क्या करनेवाले हैं। जब मैं तलासन के वक्त सुबह दाईं तरफ घूमूंगा, भारत वो पहला लोकतंत्र होगा जो मुझे दिखेगा और जब पीएम मोदी सुबह वशिष्ठासन करते वक्त बाईं तरफ देखेंगे तो इजरायल वो पहला लोकतंत्र होगा।’

पीएम मोदी ने दी होलोकॉस्ट में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि

पीएम मोदी ने अपने बयान में यरुशलम के याद वाशेम मेमोरियल म्यूजियम का जिक्र किया। पीएम कल शाम वहां होलोकॉस्ट में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने भी गए थे। 1930 और 1940 के दशक में जर्मनी के तानाशाह हिटलर की नाजी सेना ने करीब 60 लाख यहूदियों को मार दिया था जिसे होलोकॉस्ट कहा जाता है।

वोट बैंक की खातिर आजादी के बाद से किसी पीएम ने नहीं किया इजराइल दौरा

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।