कुलभूषण जाधव मामले में भारत ने कहा: ‘पाकिस्तान ने बुनियादी मानवाधिकारों की धज्जियां उड़ा दीं’

कुलभूषण जाधव मामले में भारत ने कहा: ‘पाकिस्तान ने बुनियादी मानवाधिकारों की धज्जियां उड़ा दीं’कुलभूषण जाधव।

नई दिल्ली। हेग की अंतरराष्ट्रीय अदालत ने पाकिस्तान में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गई सजाए मौत पर सुनवाई शुरू कर दी है। आईसीजे जज ने कहा कि भारत 90 मिनट के बाद भी अपना पक्ष पेश करने के लिए ‘‘संक्षिप्त विस्तार'' ले सकता है। वहीं भारत ने आईसीजे से कहा कि पाकिस्तान ने लगातार भारत को कूटनीतिक पहुंच देने से इनकार किया है और जाधव की सुनवाई प्रक्रिया के कोई दस्तावेज नहीं दिए गए।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

भारत ने इस मामले में अपना पक्ष रखते हुए स्पष्ट किया कि पाकिस्तान ने ‘‘बुनियादी'' समझे जाने वाले मानवाधिकारों की धज्जियां उड़ा दी है। कुलभूषण यादव को कूटनीतिक पहुंच मुहैया कराने के तमाम आग्रह अनसुने कर दिए गए। भारतीय वकील हरीश साल्वे ने बताया कि मौजूदा हालात गंभीर हैं और यही वजह है कि भारत ने आईसीजे का हस्तक्षेप चाहा है।

ये भी पढ़ें: इंटरनेशनल कोर्ट ने कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर लगाई रोक

इस मामले में भारत ने कुलभूषण जाधव की सजा तत्काल निलंबित करने का आह्वान किया और कूटनीतिक पहुंच की वियेना कन्वेंशन का उल्लंघन करने का पाकिस्तान पर आरोप लगाया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top