अमेरिका में महिला और उसके बेटे की हत्या के पीछे के इरादे का पता नहीं चला  

अमेरिका में महिला और उसके बेटे की हत्या के पीछे के इरादे का पता नहीं चला  शशिकला नारा और उनके बेटे अनीष नारा 

न्यूयॉर्क (भाषा)। भारतीय आईटी पेशेवर और उसके छह साल के बेटे की न्यूजर्सी में हुई हत्या के पीछे के इरादे का अभी तक पता नहीं चला है।

दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

शशिकला नारा (38 वर्षीय) और उनके बेटे अनीष नारा की हत्या उनके माप्ले शेड के फॉक्स मेडो अपार्टमेंट आवास में कल कर दी गयी थी। गुरवार की शाम जब शशिकला के पति हनुमंत राव काम से वापस घर आए तो उन्हें अपनी पत्नी और बेटे का शव घर में मिला। उन्होंने इसके बाद पुलिस को बुलाया। अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है और हत्या के मामले के तहत इसकी जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच से यह पता चला है कि दोनों ही पीडितों को कई बार चाकू मारा गया था।

बर्लिंगटन काउंटी प्रोसिक्यिूटर कार्यालय की ओर से पीटीआई को दिए गए बयान के मुताबिक कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने इसे घृणा अपराध मानने से इंकार किया है। बयान में कहा गया है, ‘‘कुछ मीडिया रिपोर्ट के उलट अभी तक ऐसा कोई संकेत नहीं है कि पीडित के भारतीय मूल के होने की वजह से यह घृणा अपराध हो।’’ इस हत्या ने माप्ले शेड कम्यूनिटी को दहशत में डाल दिया है। कम्यूनिटी के लोगों ने इस हत्या पर चिंता और दुख व्यक्त किया है।

Share it
Top