Top

हक्कानी के खिलाफ अमेरिका को संयुक्त कार्रवाई का प्रस्ताव : पाकिस्तान

हक्कानी के खिलाफ अमेरिका को संयुक्त कार्रवाई का प्रस्ताव : पाकिस्तानपाकिस्तान के विदेशमंत्री ख्वाजा आसिफ

इस्लामाबाद (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विदेशमंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि इस्लामाबाद ने वाशिंगटन को हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ पाकिस्तान में संयुक्त कार्रवाई करने का न्यौता दिया है।

आसिफ ने सोमवार को एक टॉक शो 'कल तक' में कहा, "हमने अमेरिकी प्राधिकारियों को पाकिस्तान में हक्कानी नेटवर्क के सुरक्षित ठिकानों के साक्ष्यों के साथ पाकिस्तान आने का न्यौता दिया है। अगर वे लक्षित इलाकों में उनकी (हक्कानी के) कोई भी गतिविधि पाते हैं तो हमारे सैनिक अमेरिका के साथ मिलकर एक बार में ही उन्हें नष्ट कर देंगे।"

आतंकवाद के लिए ऑक्सीजन का काम करते हैं जाली नोट : राजनाथ

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अगस्त में अफगानिस्तान के लिए अपनी रणनीति जाहिर करते हुए पाकिस्तान को 'अराजकता का एजेंट' बताया था और कहा था कि पिछले 17 सालों से 'अमेरिकी सेना अफगानिस्तान में बहुत सारे दुश्मनों से लड़ रही है'। अमेरिका और अफगान अधिकारियों ने पाकिस्तान पर हक्कानी नेटवर्क को पनाह देने का आरोप लगाया है, जो सभी अफगान तालिबान गुटों में सबसे घातक है।

‘लास वेगास हमलावर ने गोलीकांड से पहले सुरक्षाकर्मी पर चलाई थी गोली’

विदेशमंत्री ने हाल ही में वाशिंगटन का दौरा किया था और ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों से मुलाकात कर कहा था कि सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी को इस महीने की शुरुआत में अपने काबुल दौरे के दौरान यही प्रस्ताव दिया था। अमेरिकी आलोचना का जिक्र करते हुए आसिफ ने कहा, "अगर ट्रंप प्रशासन हमपर अधिक दबाव डालता है, तो हमारे मित्र राष्ट्र विशेष रूप से चीन, रूस, ईरान और तुर्की हमारे पक्ष में खड़े होंगे।" मंत्री ने शो में कहा, "अगर अमेरिकी विदेशमंत्री और रक्षामंत्री हमें निर्देश दे रहे हैं, तो हम उनके आदेश स्वीकार नहीं करेंगे.. और अब हम वह करेंगे जो हमारे देश के हित में होगा।"

ये भी पढ़ें :

पिछले साल दुनियाभर में हुए संघर्षों में 8,000 से अधिक बच्चे हताहत हुए : संयुक्त राष्ट्र

कैमरे में विध्वंस की तस्वीरें कैद करतीं हीडी लेवीन

ब्रिटिश शासन से लेकर अब तक ये है रोहिंग्या का इतिहास

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.