पनामा पेपर लीक: नवाज शरीफ भ्रष्टाचारी करार, पीएम पद से हटाए गए

पनामा पेपर लीक: नवाज शरीफ भ्रष्टाचारी करार, पीएम पद से हटाए गएनवाज शरीफ

इस्लामाबाद। पनामा केस मामले में पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए नवाज शरीफ को दोषी करार दिया है। इस फैसले के बाद नवाज शरीफ पाकिस्तान के पीएम पद से हटाए जाएंगे। सुप्रीम कोर्ट में 5 जजों की बेंच ने नवाज शरीफ के खिलाफ फैसला सुनाया। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने एनएबी को आदेश दिया है कि वे दो हफ्तों के अंदर नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ केस दायर करें। सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को पद से तुरंत इस्तीफा देने का आदेश दिया है।

बता दें कि शरीफ के परिवार के विदेश में संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की जांच के लिए संयुक्त जांच दल का गठन किया गया था और जेआईटी ने 10 जुलाई को अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंप दी थी। रिपोर्ट में कहा गया था कि शरीफ और उनके बच्चों का रहन सहन उनके आय के ज्ञात स्रोत के मुताबिक नहीं है। रिपोर्ट में उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज करने का सुझाव दिया गया था।

ये भी पढ़ें:- आस्ट्रेलिया से 30 लाख की नौकरी छोड़ बेच रहा चाय, लाखों में कमाई कर युवाओं को दे रहे रोजगार

भाई की होगी ताजपोशी!

नवाज शरीफ को अब कुर्सी छोड़नी पड़ेगी। उम्मीद की जा रही है कि उनके छोटे भाई शहबाज शरीफ की प्रधानमंत्री पद पर ताजपोशी तय है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को अगर सुप्रीम कोर्ट संवेदनशील पनामा पेपर्स मामले में कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए अयोग्य ठहराने के बाद उनके छोटे भाई एवं पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शहबाज उनकी जगह ले सकते हैं।

ये भी पढ़ें:- कानून के गलत इस्तेमाल पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, दहेज उत्पीड़न में अब नहीं होगी तुरंत गिरफ्तारी

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-07-28 19:49:35.0

Share it
Share it
Share it
Top