दुनिया

पाकिस्तान के पूर्व मंत्री बने ‘अप्रैल फूल’ मजाक का शिकार

इस्लामाबाद (भाषा)। पाकिस्तान के पूर्व गृहमंत्री रहमान मलिक ‘अप्रैल फूल' दिवस पर किए गए मजाक का शिकार हो गए और उन्होंने इस्लामाबाद के नए हवाईअड्डे का नाम चीनी राष्ट्रपति शी चिंगफिंग के नाम पर रखे जाने वाली एक झूठी रिपोर्ट पर जमकर तीखी प्रतिक्रिया दी।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने कल अप्रैल फूल दिवस के मजाक के तौर पर अपनी वेबसाइट पर एक रिपोर्ट चलाई थी कि सरकार ने नए हवाईअड्डे का नाम चीन के नेता के नाम पर रखने का निर्णय किया है। कुछ घंटों बाद मलिक ने इस रिपोर्ट पर तीखी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की दिवंगत नेता बेनजीर भुट्टो के नाम वाले इस हवाईअड्डे का नाम बदले जाने पर ‘गंभीर आपत्ति जताई'।

उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि अगर हवाईअड्डे का नाम बदलने का प्रयास किया तो उनकी पार्टी इस मुद्दे को ‘चरम स्तर' तक ले जाएगी। पूर्व मंत्री ने कहा, ‘‘सरकार को ऐसा कोई भी कदम उठाने से बचना चाहिए जिससे जनता की भावनाएं आहत होती हों।'' उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के नेताओं के नाम वाले संस्थानों के नाम बदले जाने का कोई उदाहरण नहीं है। मलिक ने सरकार से स्पष्टीकरण भी मांगा।