पाकिस्तान में आठ साल की बच्ची से दुष्कर्म के बाद भड़का दंगा       

पाकिस्तान में आठ साल की बच्ची से दुष्कर्म के बाद भड़का दंगा       पाकिस्तान में भड़क रहा दंगा।

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में आठ साल की एक बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म के बाद हत्या करने का मामला सामने आया है। इस घटना की वजह से भड़के दंगे में पुलिस के साथ हुई झड़प में दो लोगों की मौत हो गई।

पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के अनुसार कासुर जिले में रहनेवाली लड़की का अपहरण पिछले सप्ताह उसके घर के बाहर से कर लिया गया था। कल उसका शव कचडे में पड़ा मिला। क्षेत्रीय पुलिस अधिकारी (कासुर) जुल्फीकार हमीद ने बताया, कल रात शहर के सद्दार बाजार में बच्ची का शव कचड़े के ढेर में मिला। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। हमीद ने बताया, प्रारंभिक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट इस बात की ओर इशारा करती है कि बलात्कार के बाद बच्ची की गला दबाकर हत्या की गई है। बच्ची अपने रिश्तेदार के यहां रह रही थी क्योंकि उसके माता-पिता उमराह (इस्लामिक तीर्थयात्रा) करने के लिए सऊदी अरब गए हुए थे।

पुलिस ने इस संबंध में चार संदिग्धों को हिरासत में लिया है। उन्होंने बताया, हम लोग उस व्यक्ति की पहचान स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं जो बच्ची को फुटेज में अपने साथ लेकर जाता हुए दिख रहा है। दुष्कर्म की घटना की खबर सोशल मीडिया पर फैसले के बाद पुलिस की कार्वाई पर सवाल उठाते हुए लोगों ने प्रदर्शन करना शुरु कर दिया था।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान को समझना होगा कि जम्मू-कश्मीर ने अपना भविष्य तय कर लिया : महबूबा मुफ्ती

प्रदर्शनकारियों ने कासुर के जिला कॉर्डिनेशन अधिकारी और जिला पुलिस अधिकारी के कार्यालयों सहित पुलिस स्टेशन पर पत्थराव किया। इस जघन्य अपराध और हत्या के विरोध में शहर बंद रहा। मीडिया की खबरों के मुताबिक पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए हवा में गोलियां भी चलाई।

एक बचाव अधिकारी ने बताया, “प्रदर्शन के दौरान जो दो लोग गोली लगने से गंभीर रुप से घायल हो गए थे, उनकी मौत हो गई है। इस हत्या से पूरे पाकिस्तान में लोगों का गुस्सा भड़क उठा है। महत्वपूर्ण फिल्म हस्तियों और क्रिकेट खिलाड़ियों ने हत्यारे को पकड़ने की मांग उठाई है।

इस घटना के बाद से पाकिस्तान में सोशल मीडिया पर भी गुस्सा ज़ाहिर किया जा रहा है।#JusticeForZainab ट्विटर पर दुनियाभर में ट्रेंड कर रहा है और इस हैशटैग के साथ डेढ़ लाख से ज़्यादा ट्वीट भी किए जा चुके हैं।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान ने अमेरिका को झूठ और धोखे के अलावा कुछ भी नहीं दिया’

अभिनेत्री माहिरा खान ने गुरुवार सुबह ट्वीट कर कहा, "हमें यौन उत्पीड़न के बारे में खुलकर बोलने की जरूरत है। हमें इसे अपने स्कूली पाठ्यक्रमों में शामिल करने की जरूरत है। जागरूकता ही समाधान है। यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म को शर्म के साथ जोड़ दिए जाने की वजह से कई मामले अनसुने रह जाते हैं, इस शर्म को रोकें।"

अली जफर ने कहा कि इस जघन्य अपराध के बारे में सुनकर गहरी निराशा उभरी हैं और वह नाबालिग लड़की के लिए इंसाफ चाहते हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "अपनी जिंदगी में इतना आशाहीन और गुस्सा कभी नहीं हुआ, उसके परिजन उमरा (सऊदी अरब के मक्का में धार्मिक कृत्य) करने गए हुए थे, तब यह हुआ। उनके दिमागी हालत की कल्पना कीजिए। न्याय मिलना चाहिए।"

लाहौर उच्च न्यायालय (एलएचसी) के मुख्य न्यायाधीश मंसूर अली शाह ने हत्या के इस मामले पर संज्ञान लेते हुए पंजाब सरकार से इस बारे में रिपोर्ट मांगी है।

मलाला युसुफ़ज़ई ने सरकार से इसपर तुरंत कार्यवाही की मांग की।

पंजाब के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ ने कहा है कि वह खुद इस मामले की निगरानी करेंगे और तब तक चैन से नहीं बैठेंगे जब तक कि अपराधी कानून की गिरफ्त में नहीं आ जाता। पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने छोटे भाई शाहबाज को तत्काल अपराधियों की गिरफ्तारी करने का निर्देश दिया है।

ये भी पढ़ें: मुलाकात या मजाक: पाकिस्तान में अपनी पत्नी और मां से मिले कुलभूषण जाधव, मगर बीच में थी शीशे की दीवार

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान और पूर्व तानाशाह परवेज मुशर्फ सहित कई अन्य नेताओं ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की है।

ये भी पढ़ें: भारत और पाकिस्तान के लोगों ने ट्विटर पर बताया क्या है देसी कल्चर

First Published: 2018-01-11 17:54:41.0

Share it
Share it
Share it
Top