सर्जिकल स्ट्राइक से दुनिया को कराया ताकत का एहसास: मोदी

सर्जिकल स्ट्राइक से दुनिया को कराया ताकत का एहसास: मोदीवाशिंगटन में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते प्रधानमंत्री मोदी।

वॉशिंगटन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने विदेशी दौरे के दूसरे पड़ाव पर रविवार को अमेरिका के वॉशिंगटन पहुंचे, जहां पर भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने अप्रत्यक्ष रूप से पाकिस्तान के साथ ही चीन को चेताया। उन्होंने कहा कि जब हम सर्जिकल स्ट्राइक करते हैं, तो दुनिया को हमारी ताकत का पता चलता है। विश्व के किसी देश ने सर्जिकल स्ट्राइक पर कोई सवाल नहीं उठाया।

दुनिया ने नहीं उठाएं सवाल

मोदी ने कहा कि अगर दुनिया चाहती, तो इस मसले को लेकर हमारे बाल नोच लेती। कठघरे में खड़ी कर देती और दुनिया भर में हमारी आलोचना होती, लेकिन भारत के इतने बड़े कदम पर किसी ने एक भी सवाल नहीं उठाया। उन्होंने पाकिस्तान पर चुटकी लेते हुए कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पर सिर्फ उसी देश ने सवाल उठाए, जिसको इसे भुगतना पड़ा था। उन्होंने कहा कि भारत ने यह समझा दिया कि हम शांति प्रिय हैं और अंतरराष्ट्रीय कानून से बंधे हुए हैं। हम वैश्विक व्यवस्था को तहसनहस नहीं करते हैं, जिसको हमारी कमजोरी न समझा जाए।

तीन साल में सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं

मोदी ने कहा, 'भारत में भ्रष्टाचार से लोगों को नफरत हो गई है। मेरी सरकार में आज तक भ्रष्टाचार का दाग नहीं लगा है। सरकार चलाने के तरीके में भी बदलाव आया है। तकनीक से शासन में पारदर्शिता लाने में कायमाबी मिल रही है। मोदी ने कहा कि सवा सौ देशवासियों ने एक बार के कहने पर सब्सिडी छोड़ दी, जिसको गरीबों को दी जा रही है। इससे गरीबों को फायदा हुआ है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में तीन करोड़ सब्सिडी ऐसे लोगों को जाती थी, जिसका कोई अतापता ही नहीं था।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की तारीफ

अमेरिका में भारतीय समुदाय को संबोधित करने के दौरान पीएम मोदी ने विदेश मंत्री की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल में विदेशों में फंसे 80 हजार भारतीयों को बचाकर देश वापस लाया गया। सरकार ने विदेश में भारतीयों की मदद कर रही है। पिछले तीन साल में भारत ने नई ऊंचाईयों को पार किया। पिछले 20 साल में बड़ा बदलाव आया है। तकनीक से पारदर्शिता लाने में कामयाबी मिली है। सोशल मीडिया की ताकत का असली उपयोग विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने करके दिखाया है।

मोदी ने अमेरिकी कंपनियों के सीईओ से भारत में व्यापार बढ़ाने को कहा

मोदी ने कहा, 'भारत एक कारोबार हितैषी देश के रूप में उभर रहा है.' मोदी ने देश में अगले महीने से लागू होने जा रही माल एवं सेवाकर (जीएसटी) प्रणाली को भी कारोबार सुगमता के लिए परिवर्तन लाने वाला बताया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'सारी दुनिया भारत की ओर देख रही है। भारत सरकार ने 7000 सुधार अकेले कारोबार सुगमता और न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन के लिए किए हैं। भारत की वृद्धि उसके और अमेरिका दोनों के लिए फायदेमंद हैं। अमेरिकी कंपनियों के सामने इसमें योगदान देने का एक महान अवसर है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-06-26 08:28:15.0

Share it
Share it
Share it
Top