आतंकवाद का मिलकर खात्मा करेंगे भारत-अमेरिका

आतंकवाद का मिलकर खात्मा करेंगे भारत-अमेरिकाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप।

वॉशिंगटन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने आंतकवाद और उसके सुरक्षित ठिकानों को मिलकर खत्म करने का संकल्प लिया है। प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान डॉनल्ड ट्रंप ने एक बार फिर से पीएम मोदी को अपना सच्चा मित्र करार दिया। डॉनल्ड ट्रंप ने कहा कि दोनों देश की नौसेनाएं जापान की नेवी के साथ मिलकर साझा अभ्यास करेंगी। साझा बयान में कट्टर इस्लामिक आतंकवाद को लोकतंत्र के लिए खतरा बताते हुए इससे मिलकर निपटने का आह्वान किया गया है।

आतंकवादियों के ठिकानों को बनाया जाएगा निशाना

ट्रंप ने आतंकवाद पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि अमेरिका और भारत मिलकर इस्लामिक आतंकवाद का खात्मा करेंगे। दोनों देशों के बीच आतंकवाद के मसलों पर इंटेलिजेंस शेयरिंग को लेकर भी सहमति बनी है। ट्रंप ने कहा कि हम आतंकवाद और उनके सुरक्षित ठिकानों को निशाना बनाएंगे। उन्होंने कहा कि अगले महीने हम जापानी नेवी के साथ साझा अभ्यास करेंगे। इसके अलावा उन्होंने अफगानिस्तान में भारत के सहयोग के लिए भी धन्यवाद दिया।

आतंकी सलाउद्दीन वैश्विक आतंकी घोषित

पीएम नरेंद्र मोदी की अमेरिकी प्रेजिडेंट डॉनल्ड ट्रंप से मुलाकात से पहले भारत को आतंकवाद के खिलाफ अहम कामयाबी मिली। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने इस बहुप्रतीक्षित मीटिंग से पहले कश्मीर में आतंकी साजिशें रचने वाले हिज्बुल मुजाहिदीन के चीफ सैयद सलाउद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया। यही नहीं अमेरिकी न्यायिक क्षेत्र में आने वाली उसकी संपत्तियों को भी जब्त किया जाएगा।

ट्रंप बोले, हम सोशल मीडिया पर भी दुनिया के लीडर

डॉनल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ करते हुए कहा, 'विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के नेता की अगवानी करना हमारे लिए सम्मान की बात है। इस साल भारत अपनी आजादी की 70वीं वर्षगांठ मनाएगा। मैं उन्हें बधाई देता हूं। मैंने अपने कैंपेन के दौरान भारत को सच्चा दोस्त बताया था और आज वह वाइट हाउस में हैं।' अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, 'पीएम मोदी ने दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने पर सहमति जताई है। मुझे यह कहते हुए गर्व हो रहा है कि पीएम मोदी और मैं दुनिया को सोशल मीडिया पर भी लीड कर रहे हैं। मैं आपको और भारत की जनता को सल्यूट करता हूं। भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती हुई इकॉनमीज में से है।'

भारत खरीदेगा एयरक्राफ्ट

ट्रंप ने कहा कि हमारे पास संबंधों को सुधारने का विजन है। उन्होंने कहा कि नई तकनीक, नए इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में हम आगे बढ़ रहे हैं और हमें खुशी है कि दोनों देशों के बीच कारोबार तेजी से बढ़ा है। ट्रंप ने कहा कि भारत द्वारा अमेरिका से सैकड़ों एयरक्राफ्ट्स के आयात से हजारों अमेरिकियों को रोजगार मिला है।

भारत आएंगी ट्रंप की बेटी इवांका

पीएम मोदी ने कहा कि मैंने इवांका ट्रंप को भारत आने के लिए आमंत्रित किया है और उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया है। मोदी बोले, 'प्रेजिडेंट और फर्स्ट लेडी मेलानिया की ओर से जोरदार स्वागत के लिए ऋणी हूं। हमारी आज की वार्ता दोनों देशों के इतिहास में अत्यंत महत्वपूर्ण पृष्ठ होगी।'

मीटिंग से पहले, PM मोदी ने ट्रंप को याद दिलाई पुरानी बात

प्रजिडेंट और फर्स्ट लेडी ने जिस तरह से मेरा और मेरे डेलिगेशन का सम्मान किया है, वह सवा सौ भारतीयों का सम्मान है। भारत की विकास यात्रा और आर्थिक प्रगति पर राष्ट्रपति का गहरा अध्ययन है। वह 2014 में जब भारत आए थे तो मीडिया ने उनसे मेरे बारे में बातें की थीं, तब उन्होंने मेरे बारे में उन्होंने कई उम्दा बातें की थीं, यह मेरे लिए हमेशा यादगार रहेगा।

पीएम मोदी को दी गई विदाई

पीएम मोदी को दी गई विदाई ट्रंप ने पीएम मोदी को हाथ हिलाकर बाय किया। ट्रंप से गले मिलकर और उनकी पत्नी मेलानिया से हाथ मिलकर पीएम मोदी अपनी कार से रवाना हो गए। जिस तरह स्वागत के लिए ट्रंप पत्नी के साथ आए थे, उसी तरह पत्नी के साथ वह पीएम मोदी को विदाई देने भी आए। मोदी ने ट्रंप लिंकन वाला मूल स्मारक डाक टिकट तोहफे में दिया। वहीं दूसरी ओर, उनकी पत्नी को जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश की बनी शॉल गिफ्ट में दी।

ये भी पढ़ें:- सर्जिकल स्ट्राइक से दुनिया को कराया ताकत का एहसास: मोदी

अखबार बेचकर 93% के साथ पास की परीक्षा, ये वीडियो आपको बहुत कुछ सोचने को मजबूर कर देगा

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top