फॉक्स न्यूज चैनल के खिलाफ नस्ली भेदभाव का मुकदमा 

फॉक्स न्यूज चैनल के खिलाफ नस्ली भेदभाव का मुकदमा साभार इंटरनेट।

न्यूयार्क (एपी)। अमेरिका में फॉक्स न्यूज चैनल के खिलाफ नस्ली भेदभाव का आरोप लगाते हुए एक मुकदमा दायर किया गया है।

यह मुकदमा राज्य के सुप्रीम कोर्ट में दायर किया गया। जिस विस्तृत याचिका के आधार पर यह मुकदमा दायर किया गया उसमें फॉक्स चैनल के आठ पूर्व एवं वर्तमान कर्मचारियों को फॉक्स चैनल के तीन पूर्व कामगारों से जुड़े उस मामले में शामिल किया गया जिसमें चैनल के वित्तीय कार्यपालक पर आरोप लगाए गए थे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस मुकदमे में फॉक्स चैनल की मुख्य वकील डियाने ब्रांडी को भी शामिल किया गया। फॉक्स न्यूज ने इन आरोपों का खंडन किया और इन्हें ‘‘झूठे'' बताया है। चैनल के अनुसार, ब्रांडी ने भी अपने उपर लगे आरोपों का खंडन किया है। मूल रुप से यह मुकदमा मार्च के अंत में दो अश्वेत महिलाओं द्वारा दायर किया गया था और मंगलवार को यह मामला सुप्रीमकोर्ट पहुंचा। यह दोनों महिलायें फॉक्स चैनल के पे-रोल विभाग में काम करती थीं और तीसरी महिला बाद में इनसे जुड़ी थी।

कामगारों का आरोप है कि उनकी शिकायत जुडिथ स्लेटर की कार्रवाई के बारे में है जिस पर कोई कदम नहीं उठाया गया। स्टेलर पर अपीलकर्ताओं से नस्ली भेदभाव करने का आरोप है। स्लेटर की वकील ने आरोप को झूठा बताया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-04-26 09:25:54.0

Share it
Share it
Share it
Top