ईरान की संसद व खोमैनी के मकबरे पर हमला, सात की मौत, इस्लामिक स्टेट समूह ने ली जिम्मेदारी

ईरान की संसद व खोमैनी के मकबरे पर हमला, सात की मौत, इस्लामिक स्टेट समूह ने ली जिम्मेदारीतेहरान में ईरान की संसद भवन में खिड़की पर खड़ा आंतकी।

तेहरान (आईएएनएस)। ईरानी संसद की इमारत और देश के पूर्व सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्लाह रुहुल्लाह खोमैनी के मकबरे पर बुधवार को हुए हमलों में सात लोगों की मौत हो गई। समाचार एजेंसी एफे न्यूज के मुताबिक, संसद सत्र के दौरान सात बंदूकधारी अंदर घुसे और सुरक्षाकर्मियों एवं आगंतुकों पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी, जिसमें सात सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई और कई घायल हो गए। इस दोहरे हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली। आईएस की प्रचार एजेंसी ‘अमाक' ने यह जानकारी दी।

ईरान की समाचार एजेंसी तसनीम के मुताबिक, बंदूकधारियों ने संसद की इमारत की ऊपरी मंजिलों पर चार लोगों को बंधक बना लिया है। समाचार एजेंसी फार्स के मुताबिक, घायलों में सुरक्षाकर्मी एवं नागरिक शामिल हैं।

संसद भवन के दरवाजे बंद कर दिए गए और अंदर मौजूद सांसदों एवं पत्रकारों को बाहर जाने की अनुमति नहीं दी गई। सांसद तायेबेह सियावोशी ने एफे को बताया कि स्थिति बहुत अफरातफरी वाली और संवेदनशील है। उन्होंने पहले दी गई इस जानकारी को गलत बताया कि स्थिति नियंत्रण में है।

दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

हमलावरों में से एक गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि तीन अन्य अभी भी संसद भवन के भीतर हैं। संसद भवन पर हुए हमले के कुछ देर बाद ही अयातुल्लाह खोमैनी के मकबरे पर भी हमला हुआ, जिसमें कई लोग घायल हो गए। मकबरे में गोलीबारी करने वाले बंदूकधारियों की संख्या का अभी पता नहीं चल पाया है लेकिन सरकारी टेलीविजन का कहना है कि हमलावरों में से एक ने खुद को उड़ा दिया है। ईरान समाचार एजेंसी लेबर ने बताया कि अन्य दो हमलावरों को गिरफ्तार किया गया है।

तेहरान में हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली : अमाक

ईरान की राजधानी में आज हुए दोहरे हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली। आईएस की प्रचार एजेंसी ‘अमाक' ने यह जानकारी दी। एक हमला ईरान की संसद पर हुआ जबकि दूसरा देश के क्रांतिकारी संस्थापक रुहुल्ला खुमैनी के मकबरे पर हुआ। एजेंसी ने ‘‘सुरक्षा से जुडे सूत्र'' के हवाले से बताया, ‘‘इस्लामिक स्टेट के लडाकों ने तेहरान में खुमैनी के मकबरे और संसद भवन पर हमला किया।''

Share it
Top