स्मार्ट चश्मे का एक ही लैंस करेगा विभिन्न लैंसों का काम  

स्मार्ट चश्मे का एक ही लैंस करेगा विभिन्न लैंसों का काम   आई लैंस (प्रतीकात्मक फोटो)।

वॉशिंगटन (भाषा)। वैज्ञानिकों ने ऐसे स्मार्ट ग्लासेस (चश्मा) विकसित किए हैं, जिनके लैंस तरल आधारित हैं और उनका लचीलापन हर उस वस्तु पर फोकस करने में मदद करेगा जिसे भी ग्लासेस पहनने वाला व्यक्ति देख रहा होगा। यूटा यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं द्वारा विकसित इन ग्लासेस को कुछ इस तरह विकसित किया गया है कि वह आंख की प्राकृतिक पुतली की तरह काम करेंगे यानी वह हर उस वस्तु पर फोकस कर सकेगा, जिसे भी व्यक्ति देख रहा है चाहे वह वस्तु दूर की हो या फिर पास की।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

दरअसल, उम्र बढ़ने के साथ हमारी आंखों के लैंस कड़क होते जाते हैं और विभिन्न दूरी पर फोकस करने की अपनी क्षमता और लचीलापन खो देते हैं। इसीलिए हमें चश्मा लगाने की जरुरत पड़ती है, लेकिन तब मुश्किल और बढ़ जाती है, जब हम विभिन्न दूरी पर फोकस करने की क्षमता को खो देते हैं और ऐसी स्थिति में हमें अलग-अलग दूरी पर देखने के लिए विभिन्न लैंसों की जरुरत पड़ती है। नए विकसित चश्मों में ग्लिसरिन से बने लैंस होते हैं जिन्हें दो लचीली झिल्लियों के बीच रखा जाता है। इन लैंसों को फ्रेम में लगा दिया जाता है। ये झिल्लियां फोकस मिलाने के लिए मुड़ जाती है। लैंस का लचीलापन और मुड़ने की क्षमता के चलते एक ही लैंस बहुलैंस का काम कर सकता है। यह शोध ऑप्टिक्स एक्सप्रेस जर्नल में प्रकाशित हुआ।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.