सीरिया संकट के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने पहली शिखर वार्ता के लिए शी चिनफिंग का स्वागत किया 

सीरिया संकट के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने पहली शिखर वार्ता के लिए शी चिनफिंग का स्वागत किया अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप व चीनी समकक्ष शी चिनफिंग।

वाशिंगटन-पाम बीच (भाषा)। व्यापार विवाद और उत्तर कोरिया की परमाणु महत्वाकांक्षा जैसे मुद्दों पर द्विपक्षीय तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीनी समकक्ष शी चिनफिंग का स्वागत करते हुए इसे दोनों देशों के बीच ‘एक बहुत अच्छे रिश्ते ' की शुरुआत बताया।

विश्व की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं के बीच यह मुलाकात सीरिया में बढ़ते संकट के बीच हो रही हैं। सीरिया में खान शेखुन में घातक रासायनिक हमलों के जवाब में ट्रंप ने क्रूज हमलों का आदेश दिया था। रुस के साथ चीन भी सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का बार बार विरोध करता रहा है। अधिकारियों के मुताबिक ट्रंप ने शी को सीरिया हमले के बारे में व्यक्तिगत रुप से जानकारी दी।

दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

फ्लोरिडा के रिसॉर्ट मार-ए-लागो में मीडिया के सामने कुछ देर के लिए शी चिनफिंग के साथ आए डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘‘चीन के राष्ट्रपति और उनकी बेहद प्रतिभाशाली पत्नी, जो चीन में बहुत बड़ी सिलेब्रिटी और एक महान गायिका हैं, का यहां आना हमारे लिए सम्मान की बात है, आपका अमेरिका आना हमारे लिए सम्मान की बात है।''

आमने सामने की पहली मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं के चेहरों पर हाथ मिलाते वक्त मुस्कान थी। ट्रंप ने कहा, ‘‘हमारी पहले ही लंबी वार्ता हो चुकी है, अभी तक कोई निष्कर्ष नहीं निकला है लेकिन हमारे बीच मित्रता विकसित हो गई है, मैं यह देख सकता हूं। मेरा मानना है कि दीर्घकाल में हमारे बेहद अच्छे रिश्ते होने जा रहे हैं और मैं काफी आशान्वित हूं।''

चीन की सरकारी मीडिया ने बताया कि अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान शी द्विपक्षीय संबंधों तथा समान हितों के प्रमुख क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान करेंगे।

डोनाल्ड ट्रंप जाएंगे चीन

डोनाल्ड ट्रंप ने इसी साल चीन की यात्रा करने का शी चिनफिंग का आमंत्रण स्वीकार कर लिया है।

Share it
Share it
Share it
Top