मेरे पास बड़ा व ज्यादा ताकतवर परमाणु बटन, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का किम जोंग-उन को जवाब 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   3 Jan 2018 1:18 PM GMT

मेरे पास बड़ा व ज्यादा ताकतवर परमाणु बटन, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का किम जोंग-उन को जवाब डोनाल्ड ट्रंप।

वाशिंगटन (आईएएनएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरियाई नेता किम-जोंग उन की टिप्पणी पर कहा कि उनके पास 'बहुत बड़ा' व 'ज्यादा शक्तिशाली' परमाणु बटन है। किम जोंग-उन ने कहा था कि उनकी मेज पर हमेशा 'न्यूक्लिर बटन' (परमाणु बटन) रहता है।

डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार की शाम को ट्वीट किया, "उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने कहा है कि उनकी मेज पर हमेशा एक परमाणु बटन रहता है। उनके कमजोर और भूख से तरस रहे शासन में से कोई उन्हें बताए कि मेरे पास भी एक परमाणु बटन है जो उनके बटन से बहुत बड़ा और ताकतवर है। साथ ही मेरा परमाणु बटन काम भी करता है।"

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, किम जोंग-उन ने सोमवार को अपने वार्षिक नए साल के संबोधन में कहा था, "पूरा अमेरीका उत्तर कोरिया के परमाणु हथियारों की जद में है और परमाणु बटन हमेशा मेरे कार्यालय के मेज पर रहता है। उन्हें असल में वाकिफ होना चाहिए कि यह महज धमकी नहीं बल्कि सच्चाई है।"

अपने भाषण ने किम ने दक्षिण कोरिया के साथ शांतिपूर्ण समाधान की इच्छा जाहिर की।

ट्रंप ने मंगलवार को अपने श्रृंखलाबद्ध ट्वीट में कहा कि किम की तरफ से दक्षिण कोरिया के लिए दिया गया संकेत 'शायद' अच्छी खबर है या 'शायद नहीं' भी। ट्रंप ने इसके अलावा उत्तर कोरिया पर दूसरे प्रतिबंधों व अन्य दबावों का उल्लेख किया।

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, ट्रंप की यह टिप्पणी उसी दिन आई है, जब दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक का प्रस्ताव दिया है, जो नौ जनवरी को हो सकती है।

दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस बैठक के प्रस्ताव को अभी तक किम ने स्वीकार नहीं किया है। यह दोनों पड़ोसी देशों के बीच दो सालों में अपनी तरह की पहली बैठक हो सकती है।

हालिया महीनों में उत्तर कोरिया द्वारा मिसाइल व परमाणु परीक्षण कार्यक्रम जारी रखने के चलते संयुक्त राष्ट्र ने इसके खिलाफ कई आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top