‘विदेशों से योग के सामान की मांग बढ़ी’

‘विदेशों से योग के सामान की मांग बढ़ी’योग।

ठाणे (महाराष्ट्र)(भाषा)। पिछले कुछ वर्षों से ऑस्ट्रेलिया और कनाडा सहित दूसरे देशों से योग के उपकरण एवं सामानों की मांग बढ़ रही है। एक विशेषज्ञ ने बताया कि 'एलर्जी के उच्च स्तर' के कारण विदेशी लोगों में योग उत्पाद की मांग बढ़ी है।

प्रमुख योग संस्थान 'श्री अम्बिका योग कुटीर' के महासचिव रामचंद्र सुर्वे ने बताया, ''विदेशों में नाक का रास्ता साफ करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले पारंपरिक बर्तन 'नेति पात्र' और दूसरे योग उत्पादों की मांग बढ़ी है। पिछले कुछ वर्षों से इनकी मांग बढ़ती जा रही है।'' उन्होंने कहा, ''स्वास्थ्य को लेकर जागरूक होने के साथ बड़ी संख्या में युवा योग का सहारा ले रहे हैं। यह एक बहुत अच्छा संकेत है।''

ये भी पढ़ें- इजराइलियों पर चढ़ा योग का क्रेज, अष्टांग सबसे लोकप्रिय

महाराष्ट्र सरकार ने योग इलाज प्रणाली के लिए रोडमैप तैयार करने के मकसद से पिछले साल सुर्वे के नेतृत्व में एक समिति गठित की थी। कुछ महीने पहले समिति ने कई सिफारिशों के साथ सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपी। सुर्वे ने कहा, ''सिफारिशों में योग एवं आयुर्वेद दोनों की मदद से मरीजों का इलाज, शक्षिण संस्थानों में योग का अध्ययन, ग्रामीण क्षेत्रों और पर्यटन केंद्रों में योग का प्रसार शामिल हैं।'' सिफारिशों के अनुरूप स्वास्थ्य केंद्रों, आश्रम स्कूलों और आंगनवाड़ियों में भी योग प्रशक्षिण दिया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें- बहुत कुछ कहता है योग का यह ‘लोगो’

Tags:    Yoga 
Share it
Top