एक हजार प्रशिक्षार्थियों को सीएम ने दिए नियुक्ति पत्र

एक हजार प्रशिक्षार्थियों को सीएम ने दिए नियुक्ति पत्रगाँव कनेक्शन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आगरा में कौशल विकास मिशन के एक हजार सेवायोजित प्रशिक्षार्थियों को नियुक्ति पत्र दिया। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी एक राष्ट्रीय समस्या है और प्रदेश की वर्तमान सरकार रोजगारपरक शिक्षा के माध्यम से बेरोजगारी की समस्या के स्थायी समाधान हेतु प्रयासरत है।

ताजमहल की पृष्ठभूमि में ताजनेचर वॉक में मंगलवार को युवा रोजगार मेला, कौशल विकास प्रदर्शनी, प्रतिष्ठित संस्थानों के साथ प्रशिक्षण व सेवायोजन हेतु एमओयू हस्तान्तरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। प्रशिक्षित एक हजार लाभार्थियों को नियुक्ति पत्र वितरित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की समाजवादी सरकार युवाओं को शिक्षा, कौशल और रोजगार देने के लिए कृत संकल्पित है। उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है, जहां कौशल विकास नीति लागू की गई है तथा युवाओं को रोजगार हेतु प्रशिक्षित करने की दृष्टि से प्रदेश में कौशल विकास मिशन का गठन किया गया, ताकि युवाओं की रोजगार क्षमता एवं सेवायोजन योग्यता बढ़ाई जा सके। 

उन्होंने कहा कि औद्योगिक विकास के वर्तमान युग में भारत सहित विश्व के अधिकांश देशों में कुशल कामगारों की अत्यधिक मांग है और उस मांग के अनुरूप मानवशक्ति की आपूर्ति करना एक बड़ी चुनौती है। हमारा देश और विशेषकर उत्तर प्रदेश, जहां सबसे अधिक संख्या में युवा रहते हैं, इस चुनौती को एक अवसर के रूप में स्वीकार कर युवाओं की बेरोजगारी की समस्या को दूर कर सकता है। इस लक्ष्य की प्राप्ति हेतु प्रदेश की समाजवादी सरकार सबको हुनर, सबको काम नीति पर निरंतर कार्यशील रहकर 14 से 35 आयु वर्ग के अधिकाधिक युवाओं खासकर कम पढ़े-लिखे, बेरोजगार, अल्पसंख्यकों, अनुसूचित जाति के लोगों, महिलाओं और विकलांगजनों को रोजगारपरक कौशल प्रशिक्षण देकर हुनरमंद बनाते हुए देश-विदेश के जॉब मार्केट में रोजगार दिलाने हेतु निरंतर प्रयासरत है।

इस दौरान अखिलेश ने 100 छात्राओं को कन्या विद्या धन योजना के तहत प्रति छात्रा 30 हजार रुपए की धनराशि के चेकों का वितरण करते हुए कहा कि हमारी सरकार क्षेत्रीय विषमताएं भेदभाव एवं पक्षपात की पक्षधर नहीं है। उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार ने जाति व धर्म के भेदभाव के बगैर कन्या विद्या धन योजना का लाभ सभी पात्र लाभार्थियों को दिया है, ताकि मेधावी छात्राएं अपनी प्रतिभा एवं व्यक्तित्व का पूरा विकास कर सकें। 

व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री प्रो. अभिषेक मिश्रा ने कहा कि मिशन के प्रारम्भ होने से अब तक लगभग 46 लाख युवाओं ने अपना पंजीकरण मिशन पोर्टल पर कराया है तथा 1769 प्रशिक्षण केन्द्रों द्वारा दो लाख युवा प्रशिक्षित किए जा चुके हैं तथा एक लाख प्रशिक्षणरत हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं को कौशल उन्नयन के उपरान्त रोजगार दिलाकर उनके आर्थिक एवं सामाजिक सुदृढ़ीकरण अभियान को सफल बनाने के लिए कृत संकल्पित मिशन की इस अनवरत सेवा यात्रा के गौरवशाली दो वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में मुख्यमंत्री की प्रेरणा से मिशन द्वारा आगरा में युवा रोजगार मेले का आयोजन किया गया है। रोजगार मेले में सफलतापूर्वक प्रशिक्षित एवं सेवायोजित युवाओं को नियुक्ति पत्र के वितरण सहित कौशल विकास प्रदर्शनी का आयोजन तथा मिशन और सेवा प्रदाता प्रतिष्ठित कंपनियों एवं राजकीय प्रतिष्ठानों के मध्य एमओयू हस्तान्तरण किया गया है। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top