Top

नरेंद्र मोदी की बायोपिक के बाद ममता बनर्जी की बायोपिक 'बाघिनी' पर रोक

हालांकि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस बायोपि‍क से कोई संबंध होने की बात को खारिज किया है।

नरेंद्र मोदी की बायोपिक के बाद ममता बनर्जी की बायोपिक

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर बन रही बायोपिक 'बाघिनी' पर रोक लग गई है। चुनाव आयोग ने इस फिल्म के निर्माताओं से कहा है कि वह इस फिल्म को तब तक ना रिलीज करें जब तक चुनाव आचार सहिंता लागू है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 3 मई को रिलीज हो रही इस फिल्म पर आपत्ति जताई थी और चुनाव आयोग से इस फिल्म को रिव्यू करने की मांग की थी। चुनाव आयोग को लिखे बीजेपी ने अपने पत्र में कहा था कि ममता बनर्जी पर बनी बायोपिक "बाघिनि" को भी उसी तर्ज पर चुनाव आयोग देखे जिस तर्ज पर पीएम नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक को देखा था।

इसके बाद चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मांगी रिपोर्ट मांगी थी। रिपोर्ट की जांच करने के बाद चुनाव आयोग ने इस फिल्म पर रोक लगा दी है। इससे पहले चुनाव आयोग ने इस फिल्म के ट्रेलर पर भी रोक लगा दी थी। आपको बता दें कि 10 अप्रैल को जारी किए गए अपने एक आदेश में चुनाव आयोग ने कहा था कि कोई भी बायोपिक फिल्म जो किसी राजनीतिक दल या राजनेता का गुणगान करती है उसे बायोपिक या फिल्म के रूप में रिलीज नहीं किया जा सकता। चुनाव आयोग ने इसी आदेश की तर्ज पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' को रिलीज के ठीक एक दिन पहले बैन कर दिया था।

हालांकि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस बायोपि‍क से कोई संबंध होने की बात को खारिज किया है। फिल्म पर उठे विवाद के बाद उन्होंने ट्वीट किया था, "ये सब क्या बकवास फैलाई जा रही है। मेरा इस बायोपिक से कोई भी लेना देना नहीं है। यदि कुछ युवा कोई जानकारी एकत्र करके कुछ फैला रहे हैं तो ये उनका निजी मामला है। हमसे कोई संबंध नहीं है। मैं नरेंद्र मोदी नहीं हूं। कृपया झूठ फैलाकर मुझे मानहानि केस दर्ज कराने के लिए मजबूर ना करें।"

(भाषा से इनपुट)


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.