Lok Sabha Elections 2019: चौथे चरण में नौ राज्यों की 72 सीटों पर 64 फीसदी मतदान

UP में 13 सीटों पर चुनाव, कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

Lok Sabha Elections 2019: चौथे चरण में नौ राज्यों की 72 सीटों पर 64 फीसदी मतदान

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 के चौथे चरण में नौ राज्यों की 72 संसदीय सीटों पर मतदान हुआ। महाराष्ट्र की 17, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की 13-13, पश्चिम बंगाल की आठ, मध्य प्रदेश एवं ओड़िशा की छह-छह, बिहार की पांच और झारखंड की तीन सीटों पर मतदान हुुुआ। इस चरण में कुुल 64 फीसदी मतदान हुुुए।

सत्ताधारी दल बीजेपी के लिए यह चरण काफी अहम है, क्योंकि 2014 के लोकसभा चुनावों में इन 72 में से 56 सीटों पर बीजेपी को जीत मिली थी। इसके अलावा, जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग लोकसभा सीट पर भी मतदान हो रहा है। अनंतनाग सीट पर तीन चरणों में मतदान कराया जा रहा है।

चौथे चरण में केंद्रीय मंत्री एवं बीजेपी नेता गिरिराज सिंह, सुभाष भामरे, एस एस आहलूवालिया और बाबुल सुप्रियो सहित पूर्व केंद्रीय मंत्रियों सलमान खुर्शीद और अधीर रंजन चौधरी सहित 961 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हुई।

इसके अलावा सीपीआई के कन्हैया कुमार, बीजेपी के बैजयंत पांडा, कांग्रेस की उर्मिला मातोंडकर, समाजवादी पार्टी की डिंपल यादव, तृणमूल कांग्रेस की शताब्दी रॉय और कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा सहित कई अन्य उम्मीदवार भी चौथे चरण में चुनाव लड़ रहे नामी चेहरों में शामिल हैं।

अपडेट-

- अनाधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक चौथे चरण के चुनाव में बिहार में कुल 53.67 प्रतिशत की वोटिंग हुई है। जबकि उत्तर प्रदेश में 53.12, पश्चिम बंगाल में 76.47 प्रतिशत, झारखंड में 63.40, राजस्थान में 62.86, ओडिशा में 64.05, महाराष्ट्र में 51.06, मध्य प्रदेश 65.86 और जम्मू कश्मीर में 9.79 प्रतिशत मतदान हुआ है।

- शाम के पांच बजे तक कुल 50 .6 प्रतिशत मतदान हुआ है। बिहार में 44 तो यूपी में 45 फीसदी मतदान हुए हैं।




- दोपहर के तीन बजे तक कुल 49 .53 प्रतिशत मतदान हुआ है।

- दोपहर दो बजे तक कुल 38.63 फीसदी मतदान हुआ है। पूरे आंकड़े कुछ इस प्रकार हैं-


- एक बजे के आंकड़ों के अनुसार मध्य प्रदेश में छह लोकसभा सीटों पर 31.03 प्रतिशत हुआ है। प्रदेश की छिन्दवाड़ा विधानसभा की सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिए दोपहर एक बजे तक 33 प्रतिशत वोट डाले जा चुके हैं। इस सीट पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (72) का मुख्य मुकाबला भाजपा उम्मीदवार विवेक बंटी साहू (38) से है।

- 12 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार देश भर में कुल 23.48 फीसदी मतदान हुआ है। सबसे अधिक मतदान पश्चिम बंगाल में 35.10 प्रतिशत और सबसे कम जम्मू कश्मीर में 3.74 हुआ है। बिहार में 18.26 प्रतिशत और उत्तर प्रदेश में 21.18 फीसदी मतदान दोपहर 12 बजे तक हुआ है।


मध्यप्रदेश में तीन चुनाव कर्मियों की मौत

लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण के तहत मतदान में तैनात तीन कर्मचारियों की पिछले 24 घंटे में मृत्यु हो चुकी है। मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) वी एल कांता राव ने संवाददाताओं को बताया कि रविवार से अब तक, चुनाव में तैनात तीन कर्मचारियों की मृत्यु हुई है। सोमवार सुबह सीधी में एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक की दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई। वहीं रविवार रात छिन्दवाड़ा में एक महिला कर्मचारी का भी दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। जबकि शनिवार शाम बालाघाट लोकसभा सीट अंतर्गत सिवनी में एक अन्य कर्मचारी अमित पंचेश्वर ने ब्रेन हेमरेज से दम तोड़ दिया। हालांकि सभी जगह पर मतदान शांतिपूर्ण रूप से चल रहा है। कहीं से भी कोई अप्रिय घटना होने की खबर नहीं है।

यह भी पढ़ें- 'बाहरियों ने छीन लिया अयोध्या का अमन-चैन'

इस चरण में लगभग 12.79 करोड़ वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते हैं। चुनाव आयोग ने इस चरण के लिए 1.40 लाख मतदान केंद्र बनाए हैं और सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। चौथे चरण के चुनाव के साथ ही महाराष्ट्र की सभी सीटों पर चुनाव संपन्न हो जाएगा।

चौथे चरण में उत्तर प्रदेश की शाहजहांपुर, खीरी, हरदोई, मश्रिखि, उन्नाव, फर्रुखाबाद, इटावा, कन्नौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन, झांसी और हमीरपुर सीटों पर चुनाव हो रहे हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद कानपुर से, श्रीप्रकाश जायसवाल फर्रूखाबद से और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव कन्नौज से चुनावी मैदान में हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मौजूदा कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी कानपुर से, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष रामशंकर कठेरिया इटावा से मैदान में हैं। उन्नाव सीट से मौजूदा सांसद साक्षी महाराज एक बार फिर भाजपा से उम्मीदवार हैं। उनका मुख्य मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व सांसद अनु टण्डन और गठबंधन के अरुण कुमार शुक्ला से है। इस चरण में खीरी लोकसभा क्षेत्र के निघासन विधानसभा का उपचुनाव भी होगा।

वहीं बिहार में पांच लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहे हैं, इसमें दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय और मुंगेर लोकसभा सीट शामिल है। इस बार बेगूसराय, दरभंगा और मुंगेर में भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए ने अपने उम्मीदवार बदले हैं। बेगूसराय से इस बार केंद्रीय मंत्री गिरीराज सिंह उम्मीदवार हैं, जिनका मुकाबला भाकपा उम्मीदवार और जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और महागठबंधन में शामिल राजद उम्मीदवार तनवीर हसन से है।

यह भी पढ़ें- वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से क्यों मिलना चाहते हैं 123 वर्ष के स्वामी शिवानंद

दरभंगा से निवर्तमान सांसद और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद के भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हो जाने पर भाजपा ने इस लोकसभा सीट से गोपाल जी ठाकुर को अपना उम्मीदवार बनाया है जिनका सीधा मुकाबला राजद उम्मीदवार अब्दुल बारी सद्दिकी से है। मुंगेर से बिहार के मंत्री और जदयू प्रत्याशी राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह राजग उम्मीदवार के तौर पर अपना भाग्य आजमा रहे हैं ।

वहीं राजस्थान में राज्य की 25 में से 13 लोकसभा सीटों के लिए मतदान हो रहा है। इनमें टोंक सवाई माधोपुर, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जालौर, उदयपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, कोटा और झालावाड़ बारां शामिल हैं। इस चरण में जिन प्रमुख प्रत्याशियों के राजनीतिक भाग्य का फैसला होना है उनमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत, पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह, पूर्व जयपुर राजघराने की सदस्य दीया कुमारी और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह और पीपी चौधरी शामिल हैं।

अगर मध्य प्रदेश की बात करें तो मुख्यमंत्री कमलनाथ के पुत्र नकुल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह मुख्य उम्मीदवार हैं। वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ खुद विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। नौ बार लोकसभा के लिए निर्वाचित हो चुके कमलनाथ अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं जबकि नकुल के लिए यह पहला लोकसभा चुनाव है।

कमलनाथ 2018 में राज्य विधानसभा चुनाव नहीं लड़े थे। लेकिन चुनाव बाद कांग्रेस के सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरने के बाद वह राज्य के मुख्यमंत्री बने। नियमों के अनुसार, उन्हें पद संभालने के छह महीने के भीतर विधानसभा के लिए निर्वाचित होना जरूरी है। छिंदवाड़ा विधानसभा सीट कमलनाथ के नजदीकी दीपक सक्सेना ने खाली की थी। नकुल छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- ग्राउंड रिपोर्ट: 'रायबरेली चुनाव कर चुकी है, सिर्फ मतदान बाकी है'

जबकि महाराष्ट्र की 17 लोकसभा सीटों के लिए मतदान चल रहा है। राज्य की जिन सीटों पर मतदान हो रहा है, उनमें नंदूरबार, धुले, डिंडोरी, नासिक (उत्तर महाराष्ट्र), मुंबई क्षेत्र की पालघर, भिवंडी, कल्याण, ठाणे, मुंबई उत्तर, मुंबई उत्तर पश्चिम, मुंबई उत्तर मध्य, मुंबई उत्तर पूर्व और मुंबई दक्षिण मध्य सीटें, पुणे जिले के मावल और शिरूर तथा अहमदनगर जिले की शिरडी सीटें शामिल हैं।

राज्य में आज जिन उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला होना है उनमें केन्द्रीय मंत्री सुभाष भामरे (धुले), कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा (दक्षिण-मुंबई), कांग्रेस नेता प्रिया दत्त (मुंबई उत्तर-मध्य), राकांपा प्रमुख शरद पवार के पोते पार्थ पवार (मावल) और उर्मिला मातोंडकर (उत्तर मुंबई) शामिल हैं। 2014 के आम चुनाव में भाजपा ने इन 17 में से आठ सीटों पर जीत हासिल की थी। जबकि सहयोगी शिवसेना को नौ सीटें मिली थीं।


(भाषा से इनपुट के साथ)

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top