एसएससी परीक्षाः इन बातों का रखें ध्यान

एसएससी परीक्षाः इन बातों का रखें ध्यानgaonconnection

लखनऊ। आप कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की तैयारी करने वाले छात्र लगातार घंटों पढ़ते हैं लेकिन फिर भी परीक्षा में सफलता नहीं मिलने का कारण कई बार समय प्रबंधन सही न होना रहता है। यदि आप इन कुछ खास टिप्स को अपनाएं तो आने वाली परीक्षा को आसानी से पास कर सकते हैं। एसएससी परीक्षा के प्रथम चरण में सभी खंडों के मुख्य टॉपिक्स की तैयारी, पेपर सॉल्व करने की तेज स्पीड, टाइम मैनेजमेंट और आत्मविश्वास ऐसे हथियार हैं जो आपको यह परीक्षा अच्छे अंकों के साथ पार करा सकते हैं।यह परीक्षा एक से अधिक पारी में आयोजित की जाती है क्योंकि इसमें बड़ी संख्या में छात्र हिस्सा लेते हैं।प्रथम चरण में आयोजित की जाने वाली इस परीक्षा में सामान्य अभियोग्यता, सामान्य ज्ञान, गणितीय अभियोग्यता और अंग्रेजी भाषा के प्रश्न चार खण्डों में पूछे जाते हैं। प्रत्येक खंड में पचास प्रश्न होते हैं। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होता है। प्रश्न पत्र हल करने के लिए दो घंटे का समय दिया जाता है।योग्यता और उम्र सीमायदि छात्र किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या संस्थान से किसी भी विषय में बारहवीं पास हैं, तो वे आवेदन कर सकते हैं। जहां तक उम्र सीमा की बात है, तो न्यूनतम उम्र 18 और अधिकतम 27 वर्ष निर्धारित है। आरक्षण के दायरे में आनेवाले कैंडिडेट को सरकारी नियमानुसार अधिकतम उम्र सीमा में छूट का प्रावधान होगा। परीक्षा की तैयारीवैकल्पिक प्रकार की एक लिखित परीक्षा होगी। इसके अंतर्गत जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, इंग्लिश लैंग्वेज और जनरल अवेयरनेस से संबंधित प्रश्न होंगे। लिखित परीक्षा पास करने के बाद स्किल टेस्ट होगा, जिसमें डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए कम्प्यूटर टेस्ट और एलडीसी के लिए टाइपिंग टेस्ट होंगे। दोनों परीक्षा पास करने के बाद उन्हें इस पद के लिए चुन लिया जाएगा। सिलेबस स्कैनजनरल इंटेलीजेंस के अंतर्गत रिलेशनशिप कांसेप्ट, समानता और अंतर, समस्या का समाधान, मूल्यांकन, निर्णय क्षमता, चित्रों का वर्गीकरण जैसे वर्बल और कोडिंग और डिकोडिंग, वाक्य निष्कर्ष इत्यादि जैसे नन-वर्बल तरह के प्रश्न पूछे जाएंगे। जनरल अवेयरनेस में करेंट इंवेट के साथ भारत तथा इसके पड़ोसी देशों के खेल, इतिहास, संस्कृति, भूगोल, राजनीति, साइंटिफिक रिसर्च, भारतीय संविधान इत्यादि से संबंधित ज्ञान का परीक्षण किया जाएगा। इंग्लिश लैंग्वेज के अंतर्गत वोकेबलरी, ग्रामर, सेंटेंस स्ट्रक्चर, सिनोनिम्स, एंटोनिम्स और अंग्रेजी में राइटिंग स्किल से संबंधित प्रश्न होंगे।समय प्रबंधन जरूरीवैकल्पिक प्रकार के प्रश्नों में समय प्रबंधन अहम होता है। यह तभी संभव है, जब आप इसका अभ्यास करते हैं। आपके लिए बेहतर होगा कि निर्धारित समय-सीमा के अंदर प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करें। इससे परीक्षा हॉल में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। बेहतर रणनीति यह है कि आप सबसे पहले उन्हीं प्रश्नों को हल करें, जिन्हें अच्छी तरह से जानते हैं। अलग रणनीति जरूरीकिसी भी परीक्षा में आप तभी सफलता प्राप्त कर सकते हैं, जब एक सफल रणनीति बनाते हैं और तैयारी के दौरान उस पर अमल करते हैं। जनरल इंटेलिजेंस एवं न्यूमरिकल एप्टीट्यूड में अंग्रेजी और जनरल अवेयरनेस की अपेक्षा अधिक समय लगते हैं। इस कारण आप कोशिश यह करें कि अंग्रेजी और जनरल अवेयरनेस में कम समय दें और शेष बचे हुए समय का समायोजन अन्य पेपर की तैयारी में करें, तो आप निर्धारित समय सीमा के अंदर प्रश्नों को हल करने में सफल हो सकते हैं।संकलन - श्रोती बाजपेयी

Tags:    India 
Share it
Share it
Share it
Top