एटा जहरीली शराबः अब तक 22 की मौत, दर्जनों अस्पतालों में भर्ती

एटा जहरीली शराबः अब तक 22 की मौत, दर्जनों अस्पतालों में भर्तीजहरीली शराब, 22 की मौत,

एटा। जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। अलीगंज थाना क्षेत्र के लुहारी मुहल्ले और लौखेड़ा गाँव में मातम पसरा हुआ है। साथ ही कई और लोग अस्पताल पहुंच गए हैं। 

शुक्रवार को जहरीली शराब पीने से क्षेत्र में मौत का सिलसिला शुरू हो गया था। शनिवार देर रात 17 लोगों की मौत हो चुकी थी, जबकि सुबह तक मरने वालों की संख्या 22 तक पहुंच गई है। जिला अस्पताल में छः लोग भर्ती हैं, जबकि कुछ निजी अस्पतालों में है। गंभीर हालत में कुछ मरीजों को सैफई और आगरा रेफर किया गया है। कई पीड़ितों की आंख की रोशनी भी चली गई है।

मामले की जांच के लिए लखनऊ से आबकारी विभाग के डिप्टी कमिश्नर समेत पांच सदस्यीय टीम एटा पहुंच रही है। इससे पहले मुख्यमंत्री के आदेश पर जिला आबकारी अधिकारी समेत आबकारी और पुलिस विभाग के पांच लोगों को निलम्बित कर दिया। अपर पुलिस अधीक्षक वीएस यादव ने शनिवार को बताया था, "अलीगंज थाने के लुहारी दरवाजा मुहल्ले और उसके समीप के लौखेड़ा गाँव में लोग प्रभावित हैं।

लखनऊ में आबकारी विभाग के प्रमुख सचिव किशन सिंह अटौरिया ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए एटा के जिला आबकारी अधिकारी, आबकारी निरीक्षक एवं आबकारी सिपाही को निलम्बित कर दिया गया।प्रमुख सचिव, गृह देवाशीष पाण्डा ने बताया कि जनपद एटा के क्षेत्राधिकारी, अलीगंज आसाराम अहिरवार और संबंधित थानाघ्यक्ष, अलीगंज मुकेश कुमार को शासकीय दायित्वों का निर्वहन न करने पर निलम्बित करते हुए संबंधित अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए गए हैं कि भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृत्ति कतई न होने के लिए आवश्यक कार्रवाई समय से सुनिश्चित कराई जाए। जिलाधिकारी अजय यादव ने बताया कि मृतकों के लिए 2-2 लाख और बीमारों को नियमानुसार अनुग्रह राशि दी जाएगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top