#स्वयंफेस्टिवल : वह देखो शेर के बच्चे

Rishi MishraRishi Mishra   7 Dec 2016 8:24 PM GMT

#स्वयंफेस्टिवल : वह देखो शेर के बच्चेशेर के बाड़े के सामने खड़े बच्चों ने लिया जम कर मजा।

लखनऊ। वह देखो शेर के बच्चे। कितने सुंदर हैं। मगर उतने ही खतरनाक भी होते हैं ये। कुछ इसी तरह से बातें करते हुए नजर आए बच्चे। मौका स्वयं फेस्टिवल के दौरान बच्चों की जू विजिट का था। जहां जबरदस्त ठंड के बावजूद बच्चों ने जू की सैर का खूब मजा लिया।

वह देखो शेर के चार बच्चे हैं।

कल तक जो बच्चे किताबों, कहानियों और टीवी में ही शेर, चीता, भालू और दूसरे जंगली जानवरों को देखे थे वह पहली बार इन वन्य प्राणियों को जब करीब से देखे तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मौका था गांव कनेक्शन के स्वंय फेस्टिवल का। जिसमें ग्राम गोंडा देवरिया के बाबा बालकराम स्कूल के 91 बच्चों को बुधवार को लखनऊ स्थित नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान का भ्रमण कराया गया।

बच्चों ने लिया बाल ट्रेन का भी मजा।

जू में आकर बच्चों ने खूब मस्ती की। जानवरों को देखकर बच्चों ने खूब धमाल मचाया। हुक्कू बंदर के साथ आवाज निकालकर बच्चों ने आसपास के लोगों को भी हंसाया। टाय ट्रेन का भी बच्चों ने पहली बार लुत्फ उठाया। मछली घर जाकर बच्चों ने रंग-बिरंगी मछलियों को भी देखा। बच्चों के लिए जू की यात्रा यादगार रही।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top