#स्वयंफेस्टिवल : तारे जमीं पर नजारे आसमां के

Rishi MishraRishi Mishra   7 Dec 2016 2:33 PM GMT

#स्वयंफेस्टिवल : तारे जमीं पर नजारे आसमां केनक्षत्रशाला का आनंद लेने के बाद खुश नजर आये बच्चे।

लखनऊ। विशेष बच्चे जो तारों की तरह इस जमीन पर टिमटिमाते हैं, उनको स्वयं फेस्टिवल के दौरान वास्तिवक तारों को दिखाने का जिम्मा गांव कनेक्शन ने निभाया। स्वयं फेस्टिवल के तहत बच्चों को आज लखनऊ स्थित नक्षत्रशाला देखने का अवसर मिला। नक्षत्रशाला पहुंचे बच्चों में गोण्डा देवरिया ग्राम स्थित बाबा बालक राम इंटर कॉलेज और चेतना संस्था, लखनऊ के बच्चे शामिल रहे। नक्षत्रशाला देखकर बच्चे जहां बेहद उत्साहित नजर आये तो वहीं नक्षत्रों से जुड़े सवालों को लेकर बच्चों में जिज्ञासा भी नजर आयी। स्वयं फेस्टिवल के तहत बुधवार को गोण्डा देवरिया ग्राम स्थित बाबा बालक राम इंटर कॉलेज के 91 व चेतना संस्था के 30 विशेष बच्चों को नक्षत्रशाला दिखायी गयी। बच्चों ने नक्षत्रशाला में जहां असली जैसे दिखने वाले आसमान और वहां उपस्थित ग्रहों व नक्षत्रों को थियेटर के माध्यम से देखा तो वहीं अंतरिक्ष, ग्रहों और नक्षत्रों से सम्बन्धित अपनी जिज्ञासा से जुड़े सवाल भी सामने रखे जिसके उत्तर नक्षत्रशाला में मौजूद कोआर्डिनेटर्स के जरिये दिये गये।

पहला अनुभव जिसमें बच्चे तारों की दुनिया से दोचार हो सके।

इस अवसर पर बच्चों ने उन यंत्रों को भी देखा जिनके द्वारा नक्षत्रों व ग्रहों पर नजर रखी जाती है। नक्षत्रशाला देखने के बाद बच्चों के चेहरों पर खुशी नजर आयी। इस अवसर पर बच्चों को वह खास चश्मे, दूरबीन और अन्य यंत्र दिखलाये गये जिसके द्वारा सूर्य और चन्द्र ग्रहण देखा जाता है। बच्चों का कहना था कि वह आगे भी नक्षत्रशाला आने का अवसर प्राप्त करना चाहेंगे खासकर तब जब सूर्य ग्रहण पड़ रहा हो ताकि वह यंत्रों के माध्यम से सूर्य ग्रहण देखने की जिज्ञासा को पूरा कर सकें। iU[((

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top