ग्रामीणों की शिकायत पर पकड़ी गई ग्राम प्रधान और बीडीओ की चोरी

ग्रामीणों की शिकायत पर पकड़ी गई ग्राम प्रधान और बीडीओ की चोरीबिना मानक के बना शौचालय

बीसी यादव ,स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

मछलीशहर (जौनपुर)। जिले में मछली शहर ब्लॉक के अलापुर गाँव में ग्राम प्रधान और बीडीओ की चोरी पकड़ी गई है। स्वच्छ भारत अभियान के तहत बनाए गए 130 शौचालय में से सिर्फ 26 ही मानक के अनुरूप बनाए गए, बाकी शौचालय को निर्माण 1050 ईंट के बजाय सिर्फ 700 ईंट में ही कर दिया गया है।

इस खुलासा तब हुआ, जब ग्रामीणों ने इसकी शिकायत डीएम से तहसील दिवस के मौके पर की। एडीओ पंचायत ने जांच की तो मामला सही पाया गया। एडीओ पंचायत ने जांच रिपोर्ट बीडीओ को सौंप दी है। वहीं ग्राम प्रधान और वीडीओ को एक सप्ताह के अंदर मानक के अनुरूप शौचालय निर्माण कराने का अल्टीमेटम दिया गया है। यदि उन लोगों ने ऐसा नहीं किया तो फिर कार्रवाई होगी।

ग्राम प्रधान और वीडीओ ने 130 शौचालय का निर्माण करा भी दिया। हालांकि ग्रामीण इससे असंतुष्ट थे। गांव के ही लाल बहादुर ने मानक के अनुरूप निर्माण कार्य न होने की शिकायत कई ग्रामीणों के साथ मिलकर डीएम से तहसील दिवस में कर दी। डीएम ने जांच करने निर्देश बीडीओ को दिया। बीडीओ ने जांच अधिकारी एडीओ पंचायत को बनाया। एडीओ पंचायत जब गांव जांच करने पहुंचे तो उन्हें बड़ा गडबड़झाला मिला।

ग्रामीणों के लिए कराए गए 130 शौचालयों के निर्माण में से 104 शौचालय मानक के अनुरूप नहीं बने मिल। सिर्फ 26 ही मानक के अनुरूप मिले। जांच में एडीओ पंचायत ने पाया कि 104 शोचालय में 1050 ईट की जगह सिर्फ 700 ईंट ही लगाई गई। 350 ईंट के हिसाब से हर शौचालय में भ्रष्टाचार का मामला पकड़ में आया। इतना ही नहीं ज्यादातर शौचालय में दो की जगह एक ही गड्डा बनाया गया। इसकी रिपोर्ट जांच अधिकारी एडीओ पंचायत ने बीडीओ को सौंप दी। साथ ही ग्राम प्रधान और वीडीओ को एक सप्ताह का मौका दिया कि वह शौचालय का निर्माण सही मानक के अनुरूप कराएं, वरना उन पर कार्रवाई होगी।

शिकायतकर्ता लाल बहादुर (26वर्ष) ने बताया,“ शौचालय के निर्माण में गड़बड़ी का विरोध ग्रामीणों ने किया था, लेकिन मानक का ख्याल न रखते हुए निर्माण कार्य करा दिया गया। जब जांच हुई तो यह मामला खुद ब खुद सामने आया गया।”

ये भी पढ़ें- ये है जुड़वा लोगों का अनोखा गांव , हर घर में हमशक्ल

इसी गाँव के ही विपुल सिंह (38वर्ष) ने बताया,“ शौचालय निर्माण कार्य में जबरदस्त धांधली की गई। ग्राम प्रधान और वीडीओ के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। आधे से ज्यादा शौचालय में गड़बड़ी पकड़ी गई है।”

जांच अधिकारी व एडीओ पंचायत सूर्य बक्श सिंह ने बताया, “शौचालय निर्माण मानक के अनुरूप नहीं किए गए हैं। इसकी जांच की गई तो मामला पकड़ में आया है। इस पूरे मामले की रिपोर्ट बीडीओ को सौंप दी गई है। साथ ही एक सप्ताह के अंदर शौचालयों को मानक के अनुरूप निर्माण कराने का निर्देश दिया गया है।”

क्या हैं मानक

  • 1050 ईंट में किया जाता है शौचालय का निर्माण
  • शौचालय की सामने की दीवार साढ़े छह फीट की
  • शौचालय के पीछे की दीवार सवा छह फीट की
  • चेंबर में दो पाइप तीन-तीन फीट का लगा हो
  • शौचालय के लिए दो गडढे बनाए जाते हैं

एलोवेरा की खेती का पूरा गणित समझिए, ज्यादा मुनाफे के लिए पत्तियां नहीं पल्प बेचें, देखें वीडियो

Share it
Share it
Share it
Top