सूखे पड़े तालाब, प्यास से बदहाल हो रहे मवेशी

सूखे पड़े तालाब, प्यास से बदहाल हो रहे मवेशीजिले के सभी ग्रामसभा के तालाब लगभग सूखे पड़े हुए हैं।

महेश सिंह, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

सुल्तानपुर। सुल्तानपुर जिले के सभी ग्रामसभा के तालाब लगभग सूखे पड़े हुए हैं। शासन की तरफ से हर साल गर्मी के महीने में तालाब को भरने का आदेश दिया जाता है। जनपद के ज्यादातर तालाबों में एक बूंद पानी नहीं बचा है। गाँव वाले तो किसी तरह पानी की व्यवस्था करते हैं, लेकिन पशुओं को पानी नहीं मिल पा रहा है।

भदैया ब्लॉक के रामनगर पुरवा के ग्राम सभा तेराय के किसान रामलखन पांडेय (45 वर्ष) ने बताया, “ तालाब में पानी न होने के कारण सबसे ज्यादा परेशानी जानवरों को रही है।” लंभुआ ब्लॉक के चौकिया किसान राज नारायण सिंह ने बताया, “लगभग 3500 लोगों की आबादी वाला गाँव में एक भी तालाब में पानी नहीं है।”

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सूखे तालाब को पानी से भरने का आदेश दिया गया है। जहाँ पर नहर या सरकारी ट्यूबेल हैं, उनके माध्यम से तालाबों में जलभराव किया जा रहा है।
एस. राज लिंगम, जिलाधिकारी, सुल्तानपुर

वहीं, चौकिया गांव के प्रधान आमिरेई ने बताया, “ तालाबों में पानी भरने के लिए अभी कोई भी आदेश नहीं आया है। जब आदेश और पैसा आ जाएगा, गाँव के सभी सूखे तालाबों को भर दिया जाएगा।”भदैया ब्लॉक के एडीपीओ अजय कुमार श्रीवास्तव ने बताया, “जिलाधिकारी की तरफ से सूखे तालाबों को भरने का निर्देश आया है। जल्द ही इसे अमल में लाया जाएगा।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top