साक्षात्कार: गांव कनेक्शन से बोले पशुधन मंत्री पशुओं के लिए खुलेंगे पॉली क्लीनिक

Diti BajpaiDiti Bajpai   8 April 2017 2:11 PM GMT

साक्षात्कार: गांव कनेक्शन से बोले पशुधन मंत्री पशुओं के लिए खुलेंगे पॉली क्लीनिकप्रो. एसपी सिंह बघेल, पशुधन और लघु सिंचाई मंत्री, उत्तर प्रदेश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पशुओं के इलाज के लिए जल्द ही कॉल सेंटर और पॉलीक्लीनिक खोले जाएंगे। पशुओं की नस्ल सुधार पर प्रदेश में खास ध्यान दिया जाएगा। गाँव कनेक्शन से विशेष बातचीत में यूपी के पशुधन, मत्स्य एवं लघु सिंचाई मंत्री प्रो. एसपी सिंह बघेल ने कहा, “ग्रामीण क्षेत्रों में पशु चिकित्सालयों की बदहाल स्थिति और पशुचिकित्सकों की कमी को दूर करने के लिए इसी वर्ष 195 के आस-पास पॉलीक्लिनिक खोली जाएंगी, जहां पशुओं के लिए उचित इलाज की व्यवस्था होगी।”

ग्रामीण क्षेत्रों में पशु चिकित्सालयों की बदहाल स्थिति और पशुचिकित्सकों की कमी को दूर करने के लिए इसी वर्ष 195 के आस-पास पॉलीक्लिनिक खोली जाएंगी, जहां पशुओं के लिए उचित इलाज की व्यवस्था होगी।
प्रो. एसपी सिंह बघेल, पशुधन और लघु सिंचाई मंत्री, उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के सामने पशुपालन विभाग के प्रजेंटेशन से पहले गांव कनेक्शन से विशेष बात करते हुए पशुधन मंत्री ने कहा, “ प्रदेश में नए पशु चिकित्सालय भी खोले जाएंगे, जहां एक्स-रे मशीन होगी और पशुओं के ऑपरेशन भी किए जाएंगे।”

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

वहीं, मोबाइल वैन के द्वारा कृत्रिम गर्भाधान, टीकाकरण किया जाएगा, जो डॉक्टर गाँव तक नहीं पहुंच पाते, वो इस वैन से जा सकेंगे।” ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे पशुपालकों तक योजनाओं तक लाभ पहुंचाने के लिए एक टोल फ्री नंबर की शुरुआत की जाएगी, जिससे पशुपालक पशुधन से संबधिंत कोई भी जानकारी प्राप्त कर सकता है। “विभाग ने लगभग 600 मोबाइल वेटेनरी वैन का इंतजाम किया है, जो अलग-अलग गाँवों में जाकर पशुओं का इलाज करेंगी।

ये भी पढ़ें- सरकारें विदेशी नस्लों के पीछे भागती रहीं, हज़ारों देशी गायें मरने के लिए छोड़ दी गईं

अभी तक उद्देश्य है कृत्रिम गर्भाधान के द्वारा नस्ल सुधार करना, अधिक दूध उत्पादन और लोगों को रोजगार देना,” प्रो. बघेल ने कहा। प्रदेश में पशुओं के नस्ल सुधार के लिए चलाई गई पुरानी योजनाओं के गति न पकड़ पाने के बारे में एसपी सिंह बघेल ने कहा, “विशेषज्ञ, पशु चिकित्सक, वैज्ञानिक पूरे देश में स्टडी कर रहे हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं खुद राजस्थान मध्य प्रदेश जा रहा हूं कि पशुओं के संवर्धन के लिए नस्ल सुधार के लिए वेलफेयर स्कीम क्या हो सकती हैं, इसके लिए काम कर रहे हैं,” आगे कहा, “देसी गायों के संरक्षण और संवर्धन पर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा। आने वाले समय में इसमें काफी सुधार दिखेगा। जहां गिरि गाय से ब्राजील ने 85 लीटर दूध ले लिया, ऐसा नहीं है कि गिरि को किसी और से क्रॉस कराया है, उनको अच्छा भोजन, नियमित टीकाकरण, मौसम देखकर गाय से इतना उत्पादन कर रहे हैं।”

“लोक कल्याण संकल्प पत्र में भी भाजपा ने कहा था कि पशुओं की तस्करी को रोकना, उनके संवर्धन पर ध्यान देना और चरागाह पर होने वाले कब्जे को रोकना, हमारी प्राथमिकता रहेगी। इसके लिए जिलाधिकारी को चिट्ठी लिखी जाएगी और इन्हें मुक्त कराया जाएगा।” पशुधन मंत्री ने कहा, “इन चारागाह वाली जमीन पर आवारा गायों को रखने की व्यवस्था की जाएगी, जिससे किसानों की फसलों के नुकसान को रोका जा सकेगा।”

विभाग ने लगभग 600 मोबाइल वेटेनरी वैन का इंतजाम किया है, जो अलग-अलग गाँवों में जाकर पशुओं का इलाज करेंगी।

उनके खाने पीने की व्यवस्था भी की जाएगी। इसके अलावा हरे चारे की कमी को पूरा करने के लिए भूमिहीन किसानों को हरे चारे की किट की व्यवस्था भी की जाएगी।” अन्ना प्रथा पर लगाम लगाने के लिए पशुधन मंत्री ने कहा, “छुट्टा जानवर और नीलगाय दोनों ही सबसे बड़ी समस्या है। बुंदेलखंड में इनकी संख्या ज्यादा हो सकती है, लेकिन यह समस्या हर क्षेत्र में है। इसके लिए शहर में कांजी हाउस बने हैं। पशुपालक अपने जानवरों को छुट्टा छोड़ देते हैं, नगर निगम को ज्यादा से ज्यादा जुर्माना लेना चाहिए।”

वहीं, बघेल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्रीय भूजल सर्वेक्षण विभाग इस पर काम कर रहा है। पिछले 10 सालों में पानी का स्तर गिरा है, जहां पहले दो हाथ की रस्सी से पानी निकलता था, वहीं अब 70 फीट का पानी नीचे चला गया।मेरे खुद देखते हुए 40-45 वर्षों में इतना भूजल स्तर गिरा है।

इसके लिए लोगों को भी जागरूक होना पड़ेगा। खेत का पानी खेत में, गांव का पानी गांव में, राजस्थान में इस पर काम किया है क्योंकि वहां पर भयावह स्थिति आ गई थी। लघु सिंचाई में काम करेंगे, छोटे-छोटे बंधे बनाएंगे, जिससे जल्द वॉटर रिचार्ज हो सके। पानी का स्वाद ठीक हो सके और सिंचाई के काम आ सके।

राज्यमंत्री जयप्रकाश निषाद के साथ प्रो. एसपी सिंह बघेल, पशुधन और लघु सिंचाई मंत्री।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

सहयोग- बसंत कुमार, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

ये भी पढ़ें गाय प्रेमी योगी की सरकार में गायों के आएंगे अच्छे दिन ?

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top