आवारा जानवरों के आतंक से किसान परेशान

आवारा जानवरों के आतंक से किसान परेशानगाँवों में आवारा जानवर खुला घूम रहे हैं, जो आए दिन लोगों के खेतों में घुसकर फसलों को चौपट कर देते हैं।

कम्युनिटी जर्नलिस्ट- महेश कुमार, (किसान)

फैज़ाबाद। फैज़ाबाद जिले के पूरे बसहा, गोड़वा और मुबारकगंज जैसे कई क्षेत्रों में किसान आवारा जानवरों से परेशान हो चुके हैं। अपने खेतों को बचाने के लिए किसानों ने खेतों के किनारों पर लोहे के तार लगा दिए हैं, लेकिन खुले में घूम रहे जानवर उन्हें भी तोड़कर खेतों में घुस जाते हैं।

बछड़ों को छोड़ देते हैं खुला

पूरे बसहा गाँव के निवासी सुरेश कुमार (43 वर्ष) बताते हैं कि गाँव में लोग गाय पालते हैं, लेकिन बछड़ों को खुला छोड़ देते हैं। इस वक्त गाँव में सात बछड़े खुला घूम रहे हैं, जो आए दिन लोगों के खेतों में घुसने के साथ-साथ लोगों को दौड़ाते भी हैं। इस डर की वजह से गाँव में बच्चों ने निकलना तक कम कर दिया है।

हम धान के साथ-साथ बैगन की भी खेती करते हैं । हमारा खेत गाँव से सटा हुआ है, फसल बचाने के लिए घर का कोई न कोई व्यक्ति खेत पर हमेशा रहता है क्योंकि कई बार छुट्टा जानवर खेत में घुसकर फसल बर्बाद कर चुके हैं।
रामेंद्र सिंह (50 वर्ष), गाँव के किसान

प्रधान नहीं कर रहे मदद

इन जानवरों को कई बार गाँव के बाहर तक खदेड़ा गया है, मगर कुछ दिनों बाद फिर से ये अपने आप गाँव में आ जाते हैं। इनके उत्पात से चौपट हो रही फसलों को बचाने के लिए किसानों ने कई बार प्रधान से बात भी की, मगर आज तक उनकी तरफ कोई मदद नहीं की गई।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top