हमारी कोई नहीं सुन रहा साहब

Basant KumarBasant Kumar   13 April 2017 10:34 AM GMT

हमारी कोई नहीं सुन रहा साहबसीएम आवास पर शिकायत लेकर आई राम रानी।  

बसंत कुमार,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। “हमारी कोई सुन नहीं रहा है साहब। मुख्यमंत्री जी से मिलने आई थी, उनसे भी मुलाकात नहीं हुई। उन लोगों ने हमें घर से भगा दिया है। घर जाने पर मारने की धमकी दी है। पुलिस भी हमारा साथ नहीं दे रही है। हम दर-दर भटक रहे हैं।” सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास पर शिकायत करने आई राम रानी ने रोते हुए बताया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राजधानी के गोसाईंगंज थाने के आह्लात खेड़ा जौखडी गाँव की रहने वाली राम रानी (49 वर्ष) अपने परिवार वालों के साथ दर-दर भटक रही है। वो मंगलवार को सीएम आवास पर शिकायत करने आई थीं लेकिन सीएम से उनकी मुलाकात नहीं हो सकी।

राम रानी के बेटे अतीक (28 वर्ष) बताते हैं, “हमारा दूध बेचने के कारोबार है। 27 मार्च को हम एक भैंस खरीदने गए थे। भैंस मालिक से भैंस की कीमत 51 हज़ार रुपए में तय हो गई, तभी हमारे ही पड़ोसी मोबिन, अल्ताफ और असरत पहुंचे और भैंस की कीमत 52 हज़ार रुपए देने के लिए बोलने लगे। भैंस मालिक ने उन्हें देने से मना कर दिया तो मुझे और मेरे पिता को मारने लगे। हम जैसे तैसे वहां से भागे तो रास्ते में भी उन्होंने हमें मारा।”

अतीक आगे बताते हैं, “इसके बाद वो लोग घर आकर हमें जान से मारने की धमकी देने लगे और बार बार मारपीट करने के लिए आने लगे तो हम थाने में मामला दर्ज कराने गए। थाने में अधिकारी एफ़आईआर तक दर्ज नहीं कर रहे थे। उन्हें हमसे एफ़आईआर लिखने के लिए तीन हज़ार रुपए लिए लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की।”

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 323 और 509 के तहत मामला दर्ज किया है। अतीक का आरोप है, “मामले की जाँच कर रहे चन्द्रभूषण यादव ने मामले को निपटाने के लिए और हमें घर वापस लौटाने की बात कहते हुए हमसे पांच रुपए और लिए लेकिन कुछ नहीं हुआ।” उसने आगे बताया कि चन्द्रभूषण यादव के सामने ही वो हम पर तमंचा निकाल देते है। हम पिछले 15 दिनों से घर वापस नहीं गए हैं।”

गोसाईंगंज थाने के एसआई संजीव मिश्रा बताते हैं, “इस परिवार का मामला हमारे यहां दर्ज है। अगर परिवार कोई समस्या है तो हमसे आकर मिले। हम उन्हें पूरी सुरक्षा देंगे।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top