Read latest updates about "गांव कनेक्शन विशेष" - Page 2

  • क्या हत्यारे को पकड़ने में मदद की एक पौधे ने?

    बैक्सटर ने पेड़-पौधों पर अपने प्रयोगों के आधार पर ये तो साबित कर ही दिया था कि पेड़-पौधों में तमाम तरह की संवेदनाएं पाई जाती हैं और साथ ही ये भी बताया कि पौधे हमारे मन की बातों को भी भाँप जाते हैं। एक पॉलीग्राफ मशीन की मदद से इन्होंने अपने पेड़-पौधों पर अपने प्रयोगों और दावों को सिद्ध करके भी...

  • आप भी जानिए कैसे होती है चकबंदी, कैसे कर सकते हैं आप शिकायत 

    अगर आपके गांव में चकबंदी हो रही है, या होने वाली है तो ये खबर आपके काम की है। आमतौर पर किसान चकबंदी प्रक्रिया को काफी जटिल मानते हैं। गांव में चकबंदी कैसे होती है, आइये आपको इस बारे में पूरी जानकारी बताते हैं…अक्सर ग्रामीण क्षेत्रों में परिवार के बढ़ने के साथ खेती की जमीनों में बंटवारा होता रहता है।...

  • सतावर, एलोवेरा, तुलसी और मेंथा खरीदने वाली कम्पनियों और कारोबारियों के नाम और नंबर

    गांव कनेक्शन आज आप को औषधीय (मतलब वो पौधे जिनका दवाइयों के रूप में इस्तेमाल होता है।) और सगंध (यानि वो पौधे जिनका प्रयोग सौंदर्य और प्रशाधन आदि में ज्यादा होता है) की मार्केट और उन खरीददारों के बारे में बताएगा, जहां आप आसानी उपनी उपज बेच सकते हैं। पिछले कुछ वर्षों के पर खेती के ट्रेंड नजर डालिए।...

  • दूध दही वाले देश के किसानों को चौपट करेंगे अमेरिकी डेयरी प्रोडक्ट

    लुधियाना/लखनऊ। मिल्क पाउडर के स्टॉक से डेयरी किसान और डेयरी इंडस्ट्री उभर नहीं पाई, उन्हीं पशुपालकों के लिए एक और मुसीबत आने वाली है। अमेरिका में बने डेयरी उत्पादों को भारत में आयात किया जाएगा। सरकार के इस फैसले से देश के सात करोड़ डेयरी व्यवसाय से जुड़े लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता...

  • बुंदेलखंड: ठंड में ही गर्मियों जैसी पानी की किल्लत, टीकमगढ़ में सूखे कुएं और हैंडपंप

    हाईलाइटबुंदेलखंड में सर्दियों में पानी की किल्लत, नवंबर-दिसंबर में सूखने लगे हैंडपंपपानी की समस्या ने बढ़ाया पलायन, गांवों के युवा कमाने जा रहे शहरकौड़िया गांव की 2 हजार आबादी पर 4 हैंडपंप, जिसमें 1 में पानी नहींटीकमगढ़। बुंदेलखंड में वैसे तो पानी की समस्या मार्च से शुरू होती थी, लेकिन इस साल हालात...

  • दिव्यांग बेटी के लिए मां ने पाई-पाई जोड़ बनवाया शौचालय

    परसपुर चौबे (सोनभद्र)। किसी मां के लिए शायद इससे बड़ा दु:ख कुछ नहीं होगा कि उसकी बेटी घिसट-घिसट के चलती हो और उसे हर काम के लिए किसी और का सहारा लेना पड़ता हो। शौच के लिए भी उसे अपने मां के कंधे पर बैठ कर खेतों में जाना पड़ता हो। अपनी बेटी के इस दु:ख को देखते हुए उस मां ने एक नजीर पेश की जो अपने आप...

  • अब हर गुरूवार होगी सेहत की बात हर्बल आचार्य के साथ

    हिंदुस्तानी वनवासियों और ग्रामीणों के पारम्परिक ज्ञान की मदद से अब सुलझेगी सेहत की गुत्थी। जी हां, जल्द ही गाँव कनेक्शन ला रहा है आपके लिए एक नया शो 'हर्बल आचार्य', जिसे आप देख सकेंगे हर गुरूवार हमारे यूट्यूब चैनल पर https://bit.ly/2nrcnrd।'हर्बल आचार्य' में आप हमारे हर्बल एक्सपर्ट डॉ. दीपक...

  • 'उस हाथी के धैर्य ने मेरी बंद आंखें हमेशा के लिए खोल दीं'

    शैलेंद्र कुमारशैलेंद्र कुमार बात 23 सितंबर 2018 के सुबह 6 बजे की है। मेरे फ़ोन पर किसी का कॉल आया, कोई नया नंबर था। फ़ोन रिसीव करते ही दूसरी ओर से व्यक्ति ने धमकी भरे स्वर में कहा, 'कहाँ हैं सिपाही जी, चरही स्टेशन के पास एक हाथी आ गया है, जल्दी से उसको वहां से हटाइये, नहीं तो आपका हाथी किसी के...

Share it
Top