लो वोल्टेज से परेशान इस गांव के लोग, कहा- ‘बिजली आने पर सिर्फ स्प्रिंग लाल होता है...’

लो वोल्टेज से परेशान इस गांव के लोग, कहा- ‘बिजली आने पर सिर्फ स्प्रिंग लाल होता है...’शिवनााम गांव, बाराबंकी।

बाराबंकी। ये तस्वीर है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से महज ढ़ेड घंटे की दूरी पर स्थित बाराबंकी के शिवनाम गांव की, कीचड़ से भरी बदहाल सड़कें, कूड़े से पटी नालियां, दिन में सिर्फ 2-3 घंटे बिजली, ये है यहां के विकास की असली तस्वीर। भले ही प्रदेश की सरकार बदल गयी हो लेकिन इस गाँव की बदसूरत तस्वीर नहीं बदली हालात वैसे के वैसे ही हैं जैसे दस साल पहले थे।

गांव की गलियां।

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले की तहसील हैदरगढ़ के अंतर्गत आता है शिवनाम गाँव। गांव की कलावती चौरसिया बताती हैं, “बरसात का मौसम है ऐसे में सड़कों पर इतना कीचड़ हो जाता है कि कोई चल भी नहीं सकता। गंदगी में जीना मुश्किल हो गया है लेकिन कोई देखने वाला नहीं।” सफाई के अलावा इस गांव की सबसे बड़ी समस्या है बिजली जो सिर्फ 1 या दो घंटे के लिए आती है, वो भी इतनी धीमी की उसमें रौशनी के लिए एक बल्ब के अलावा कुछ भी नहीं जल सकता।

वीडियो यहां देखें-

बिजली का किस्सा सुनाते हुए गांव के बुजुर्ग हीरालाल हंसने लगे और बोले, “अब बिजली की बात किस तरह से बताई जाए, कभी सुबह आती कभी शाम आती है, और आती भी है तो स्प्रिंग (बल्ब) से ज्यादा कुछ जल नहीं पाता।”

आपको बता दें कि शिवनाम गांव उसी हैदरगढ़ जिले के अन्तर्ग आता है जहां से कभी वर्तमान गृहमंत्री राजनाथ सिंह चुनाव जीतकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे।

रिपोर्ट- सतीश कश्यप

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top