दीपक ठाकुर: जिसे जागरण में गाने का मौका नहीं मिला था, वो बॉलीवुड तक कैसे पहुंचा

" हम तो गांव के आदमी हैं। जब पहली बार प्लेन में बैठना हुआ तो बहुत डर लगा था। समझ नहीं आ रहा था कैसे इतने सारे लोग उसमें बैठ जाते हैं। मुझे एक्साइटमेंट और डर भी लग रहा था कि कहीं कुछ हो न जाये। तो वो अद्भुत था मतलब बयां नहीं कर सकते हम अपने शब्दों में।"

Mithilesh DubeyMithilesh Dubey   1 March 2019 1:00 PM GMT

मुजफ्फरपुर (बिहार)। " यहां से 45 किमी दूर एक जिला है समस्तीपुर जहां पर बहुत बड़ा जागरण हो रहा था, मैं अपने मामा के साथ वहां के गाने के लिए साइकिल से गया । रातभर वहां था, गाने का मौका मांगता रहा, लेकिन मुझे मौका नहीं मिला। वहां से आने के बाद बहुत रोया था।" दीपक ठाकुर बताते हैं।

बिहार के दीपक ठाकुर बिग बॉस सीजन 12 (2018) के ग्रैंड फिनाले के तीसरे राउंड तक पहुंचे थे। लेकिन इससे पहले ही वे अनुराग कश्यप की फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर भाग-2 (2012) के गाना मूरा से प्रसिद्ध हो चुके थे। दीपक मुजफ्फरपुर के गांव आथर के रहने वाले हैं।

अपने गांव के बारे में दीपक कहते हैं " मेरा गांव ऐसा है कि वो तीनों तरफ से पानी से घिरा रहता है। हम नाव से गांव जाते हैं। बस एक साइड बचा है जहां पानी नहीं है। जैसे ही वहां पानी भरेगा तो मेरा गांव टापू बन जायेगा।"

फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप के साथ दीपक ठाकुर

दीपक ने बॉलीवुड के लिए पहला गाना गैंग्स ऑफ वासेपुर के पहले भाग में गाया था। गाने के बोल था 'हमी के छोड़ के'। इसके बाद दूसरे भाग में मूरा गया जिसे खूब पसंद किया गया। पिछले साल आयी अनुराग कश्यप की हिट फिल्म मुक्काबाज में भी उनका गाया गाना अधूरा मैं भी लोगों को खूब भाया।

एक छोटे से गांव में रहने वाला लड़का बॉलीवुड की चकाचौंध वाली दुनिया तक कैसे पहुंचा, इस बारे में दीपक बताते हैं " मेरे गुरु डॉ. संजय कुमार पता चला कि स्नेहा खानवलकर जो की म्यूजिक डायरेक्टर हैं और वो मुजफ्फरपुर आयी हैं और उनको एक आवाज की तलाश है। गैंग्स ऑफ वासेपुर फिल्म के पहले भाग के लिए। मैं गुरु जी के साथ हारमोनियम लेकर होटल पहुंच गया, मुजफ्फरपुर में ही। वहां स्नेहा ने जी कहा कि कुछ सुनाओ।"


दीपक आगे कहते हैं " ऐसा कुछ नहीं था कि हम ऑडिशन दे रहे हैं, बैठकर उनको गाना सुनाया और वे रिकॉर्ड करके लेकर चली गयीं। डेढ़ दो साल बाद हमको मुंबई से फोन आया कि दीपक ये जो गाना आपने होटल में सुनाया था वो अनुराग कश्यप सर को इतना पसंद आया कि वे उसे वैसे ही पार्ट वन में डाल रहे हैं, और पार्ट टू के लिए बहुत अच्छा गाना है मूरा जो वरुण ग्रोवर का लिखा हुआ है वो आपको गाना है। आप आइये मुंबई, फिर वहां से टिकट आया और हम उड़कर पहुंचे मुंबई।"

पहली बार मुंबई यात्रा के बारे में दीपक कहते हैं " हम तो गांव के आदमी हैं। जब पहली बार प्लेन में बैठना हुआ तो बहुत डर लगा था। समझ नहीं आ रहा था कैसे इतने सारे लोग उसमें बैठ जाते हैं। मुझे एक्साइटमेंट और डर भी लग रहा था कि कहीं कुछ हो न जाये। तो वो अद्भुत था मतलब बयां नहीं कर सकते हम अपने शब्दों में।"

मुक्काबाज के हीरो विनीत सिंह के साथ दीपक ठाकुर

बिग बॉस में कैसे एंट्री मिली, इस बारे में दीपक कहते हैं " वूट पर वीडियो बनाकर डाले थे और वो उनको पसंद आया। फिर ऑडिशन पर ऑडिशन हुआ और सेलेक्ट होते चले गये। वहां पहुंचे तो सीधे सलमान खान सामने। एक कॉमनर के तौर पर वहां गया था। इसलिए मैंने कोशिश की कि हर एक कॉमनर को जो देख रहा होगा हमे टीवी पर उसे ये महसूस नहीं होना चाहिए कि गया और नाम डुबाके आ गया, इससे अच्छा तो हम खेलते अगर वहां पहुंचते तो। उसी हिसाब से गये और खेले और बाकि मां-बाप गुरुजी का आशीर्वाद था।"

दीपक जब भी मुजफ्फरपुर में रहते हैं अपने गुरु डॉ. संजय कुमार के यहां रियाज करते जरूर जाते हैं। दीपक के बारे में डॉ. संजय कहते हैं " दीपक जब छह-सात साल का था तभी उसके पिता उसे मेरे पास लेकर आये थे। वो शुरू से ही मेहनती था और कुछ करना चाहता था। मारे एक मित्र है यशवंत पराशर जो स्पीक मैके के बिहार-झारंखड के हेड हैं। उन्हीं के माध्यम से स्नेहा आयी थीं और उनको एक नये आवाज की तलाश थी। हमने कहा कि एक हमारा बच्चा है उसको सुन लीजिए। बोले कि लेकर आइये, वहीं पे हमारा रिकॉर्डिंग सिस्टम है होटल में। दीपक को हम बोले कि चलो। वहां जाके गाया, रिकॉर्ड कीं फिर उसी को आगे चलकर गैंग्स ऑफ वासेपुर पार्ट वन में शामिल किया। अच्छा लगता है कि हमारा विद्यार्थी इमने ऊंचे मुकाम पर पहुंचा है, ये बड़ी खुशी की बात है।"


बिग बॉस में जाने से क्या बदलाव आया, इस पर दीपक कहते हैं " पहले लोग समझते नहीं थे, जानते नहीं थे, पहचानते नहीं थे, मानते नहीं थे। अब लोग जानते हैं, पहचानते हैं, सारी चीजें अब हो रही हैं। सिलसिलेवार ठंग से चल रहा तो बड़ा अच्छा महसूस होता है कि चलो दुनिया थोड़ा सी बदली है, थोड़ा नहीं बहुत कुछ बदल गया है।"

दीपक आगे बताते हैं कि कलर्स चैनल का बहुत बड़ा शो है, जिसमें मैं एक बार टीवी पर दिखूंगा। हमारी खुद की फिल्म आने वाली है। जिसके लीड हमी होंगे। और एल्बम वगैरह चल रहा। अभी सुनो-सुना गाना हमारा रीलिज हुआ, मतलब गरदा-गरदा कर दिया। लोगों का बहुत प्यार मिला। हमें तुमसे प्यार कितना फिल्म आ रही है करणवीर वोहरा का। उसमें हमारा गाना है वो रे पिया रे। फिलहाल आजकल मैं इन्हीं सब में व्यस्त हूं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top