छुट्टा पशुओं से परेशान किसान ने परंपरागत खेती छोड़ शुरु की मशरुम की खेती

Arvind ShuklaArvind Shukla   20 Dec 2019 1:54 PM GMT

सीतापुर जनपद में मशरूम की खेती का दायरा बढ़ रहा है। छुट्टा जानवर और सिंचाई की समस्या से परेशान होकर किसानों ने कृषि विकास केंद्र (केवीके) से ट्रेनिग लेकर मशरूम की खेती शुरु की है।

किसानों को इससे कम जगह में खेती करने का विकल्प मिल रहा है। शिव कुमार पांडेय एक ऐसे ही प्रगतिशील किसान हैं, जिन्होंने केवीके से प्रशिक्षण लेकर मशरूम की खेती शुरु की है। उनका दावा है कि इससे उनकी सालाना आमदनी दोगुनी है। वह अन्य किसानों को भी मशरुम की खेती करना सीखा रहे हैं।

आम किसानों की दुश्मन हैं ये 10 मुश्किलें



Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.