मनोज बाजपेयी: इंस्टॉलमेंट चुकाने के लिए नहीं, मैं अपने सुख के लिए काम करता हूं #TheSlowInterview

मनोज बाजपेयी: इंस्टॉलमेंट चुकाने के लिए नहीं, मैं अपने सुख के लिए काम करता हूं #TheSlowInterview

"मैं सुबह 5 बजे उठता हूं, बेटी को उठाता हूं, उसे दूध देता हूं, रात के बर्तन भी धो देता हूं, किचन की साफ सफाई भी कर देता हूं... यही सब है, एक मिडिल क्लास इंसान की जो ज़िंदगी होती है, वही हम जीते हैं।" कहना है बॉलीवुड के मशहूर एक्टर मनोज बाजपेयी का, जिन्हें पिछले दिनों राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों पद्मश्री मिला है। पूरा वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें

भारत के मशहूर स्टोरीटेलर नीलेश मिसरा की इंटरव्यू सीरीज़ 'The Slow Interview with Neelesh Misra' का नया एपिसोड सामने आ चुका है। इस बार शो पर एक्टर मनोज बाजपेयी बतौर मेहमान आए हैं। उन्होंने अपनी ज़िंदगी के ऐसे कई पहलुओं के बारे में बात की है, जो शायद दुनिया से अब तक छिपे हुए हैं। नीलेश मिसरा ने मनोज बाजपेयी से एक सवाल किया कि मुंबई जैसे शहर में उन्होंने अपने आपको कैसे बचाकर रखा हुआ है। इसके जवाब में मनोज ने कहा कि ये काम बहुत आसान है, लेकिन उतना ही मुश्किल भी है। आगे वो कहते हैं, "हम लोग बहुत लिमिटिड ज़रूरतों के साथ जीते हैं... मैंने और मेरी पत्नी ने डिसाइड किया कि हम अपनी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए, इंस्टॉलमेंट देने के लिए काम नहीं करेंगे। हम काम करेंगे अपनी खुशी के लिए अपने सुख के लिए।"मनोज बाजपेयी: इंस्टॉलमेंट चुकाने के लिए नहीं, मैं अपने सुख के लिए काम करता हूं


बॉलीवुड में लंबा वक्त गुज़ार चुके मनोज बाजपेयी ने फिल्म इंडस्ट्री में अपने करियर और उतार-चढ़ाव के कई क़िस्से सुनाए। ये पूरा ऐपिसोड नीलेश मिसरा के यूट्यूब चैनल पर देखा जा सकता है।

नीलेश मिसरा की इस इंटरव्यू सीरीज़ में इससे पहले भी बॉलीवुड जगत की 5 हस्तियां दिखाई दे चुकी हैं जिनमें एक्टर पंकज त्रिपाठी और 70-80 के दशक के मशहूर फिल्म राइटर सलीम ख़ान शामिल हैं।

Share it
Top