गंध से अपराधियों की पहचान कर सकता है इंसान: अध्ययन

गंध से अपराधियों की पहचान कर सकता है इंसान: अध्ययनgaonconnection

लंदन (भाषा)। एक नये अध्ययन के अनुसार किसी अपराध के मामले में इसके गवाह अपराधियों की पहचान उनके गंध से करने में सक्षम हैं। अध्ययन में पाया गया कि इंसान में लोगों की पहचान उनके शरीर के गंध से करने की क्षमता है।

स्वीडन के करोलिंस्का इंस्टीट्यूटेट से मैट्स ओल्सन ने कहा, ‘‘पुलिस अक्सर इंसान की आंखों और यहां तक कि कानों का गवाह के रुप में इस्तेमाल करती हैं लेकिन अब तक इंसान की नाक का इस्तेमाल गवाह के रुप में नहीं किया गया।'' ओल्सन ने कहा, ‘‘हम देखना चाहते थे कि इंसान अपराधियों को उनके गंध से पहचान सकते हैं या नहीं।'' अदालत में गंध की मदद से अपराधियों की पहचान करने के लिए कुत्तों का इस्तेमला किया जाता रहा है। लेकिन आमतौर पर यह माना जाता है कि गंध से पहचान करने की मानव की क्षमता अन्य जीवों के मुकाबले कम है। 

हालांकि अध्ययन में पता चला है कि मनुष्य में लोगों को उनके गंध से पहचानने की क्षमता है। यह अध्ययन फ्रंटियर्स इन साइकोलॉजी नाम की पत्रिका में प्रकाशित किया गया था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top