गर्भवती महिलाओं की होगी ऑनलाइन ट्रैकिंग

गर्भवती महिलाओं की होगी ऑनलाइन ट्रैकिंगगाँव कनेक्शन

लखनऊ। अगले महीने से स्वास्थ्य विभाग विशेष अभियान शुरू करेगा, जिसमें प्रदेश की सभी गर्भवती महिलाओं और पांच साल तक के बच्चों की जानकारी एकत्र कर उसे ऑनलाइन रखा जाएगा। इस अभियान के तहत गर्भावस्था के दौरान जरूरी चिकित्सकीय सहायता व बच्चों के टीकाकरण की ट्रैकिंग भी की जाएगी।

स्वास्थ्य विभाग 27 जनवरी से पांच फरवरी तक मातृत्व सप्ताह का आयोजन कर रहा है। इसके बाद आठ फरवरी से सात मार्च तक मातृ एवं शिशु ट्रैकिंग सिस्टम (एमसीटीएस) को मजबूत करने के लिए इस अभियान को चलाया जाएगा। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अरविंद कुमार ने इस बाबत आदेश जारी कर कहा है कि इस दौरान हर जिले में सभी गर्भवती महिलाओं व पांच वर्ष तक के बच्चों का पंजीकरण किया जाएगा। इनमें उन महिलाओं को अलग से चिन्हित किया जाएगा, जिनकी गर्भावस्था को गंभीर मानकर उनके लिए विशेषज्ञ प्रसव की आवश्यकता होगी। इसके अलावा ढाई किलोग्राम से कम वजन वाले बच्चों को भी चिन्हित किया जाएगा। जिला स्तर पर जिलाधिकारी स्वयं अभियान पर नजर रखेंगे और ब्लॉक स्तर के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठकों में स्वयं मौजूद रहेंगे। अभियान के दौरान गर्भवती महिलाओं की एएनसी सेवाओं की रिपोर्टिगए प्रसव में जटिलता व रक्तअल्पता वाली गर्भवती महिलाओं की ट्रैकिंग एवं कम वजन वाले बच्चों की ट्रैकिंग के लिए ब्लॉक स्तर पर आंकड़े ऑनलाइन अपडेट किये जाएंगे। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top