गुजरात में 2011-12 में 61 लोगों की हिरासत में मौत

गुजरात में 2011-12 में 61 लोगों की हिरासत में मौतगाँवकनेक्शन

अहमदाबाद (भाषा)। गुजरात विधानसभा में राज्य मानवाधिकार आयोग द्वारा जारी की गई रिपोर्ट की मानें तो 2011-12 में राज्य में पुलिस हिरासत में कुल 61 लोग मारे गए।

मंगलवार को सदन के पटल पर रखी गयी 2011-12 की वार्षिक रिपोर्ट में जीएसएचआरसी ने बताया कि पुलिस हिरासत या न्यायिक हिरासत के दौरान हुई कुल मौतों में से 51 मामले प्राकृतिक मौत के थे जबकि 7 खुदकुशी के और 3 अप्राकृतिक या संदिग्ध मौतों के मामले थे।

रिपोर्ट में बताया गया कि हिरासत में मौत के कुल मामलों में से 8 मौत पुलिस हिरासत में जबकि 53 मौत न्यायिक हिरासत में होने की खबर है।   इसमें अकेले अहमदाबाद शहर में मौत के 24 मामले हैं। एसएचआरसी की वार्षिक रिपोर्ट में 24 में से एक मामले को अप्राकृतिक या संदिग्ध दिखाया गया है।

वडोदरा शहर दूसरे स्थान पर रहा और यहां न्यायिक हिरासत के दौरान 10 लोगों की मौत हुयी। हालांकि, शहर में हिरासत के दौरान कोई अप्राकृतिक मौत नहीं हुई। जूनागढ़ शहर में हिरासत के दौरान चार लोगों की मौत हुयी। अहमदाबाद शहर के अलावा, पुलिस हिरासत में दो अप्राकृतिक या संदिग्ध मौत राजकोट शहर और दाहोद में हुयी है। हिरासत के दौरान खुदकुशी के सात मामले दर्ज किए गए जिसमें से अहमदाबाद ग्रामीण, मेहसाणा, राजकोट ग्रामीण, जूनागढ, अमरेली, वलसाड और नवसारी जिलों से एक-एक मामला सामने आया।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.