गुजरात सरकार ने औद्योगिक नमक पर से वैट लिया वापस

गुजरात सरकार ने औद्योगिक नमक पर से वैट लिया वापसgaonconnection

अहमदाबाद (भाषा)। गुजरात सरकार ने 2016-17 के बजट में औद्योगिक नमक पर लगाए गए पांच प्रतिशत मूल्य वर्धित कर (वैट) को वापस ले लिया है। बुद्धवार को हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में यह फैसला नमक विनिर्माताओं द्वारा कड़ा विरोध किए जाने के बाद किया गया।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार नमक उत्पादकों के हितों को ध्यान में रखते हुए इस कर को पूरी तरह वापस लेने का निर्णय किया गया। राज्य में पहली बार नमक पर लगाए गए इस कर के विरोध में नमक उत्पादकों ने सरकार को हड़ताल पर जाने की धमकी दी थी।

इस संबंध में विरोध प्रदर्शन करने वाले संगठन स्माल स्केल साल्ट मैन्युफैक्चर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष बच्चू भाई अहिर ने कहा कि अभी भी सरकार द्वारा नमक की खेती के लिए उपयोग में लायी जाने वाली भूमि पर प्रति वर्ग मीटर 10 पैसे के हिसाब से लगाया गया अतिरिक्त कर वापस लिया जाना बाकी है। हालांकि उन्होंने सरकार के पांच प्रतिशत वैट को वापस लेने के अच्छा कदम बताया।

गौरतलब है कि गुजरात वार्षिक आधार पर 176 लाख टन नमक का उत्पादन करता है जिससे देश की 70 प्रतिशत नमक की जरुरत पूरी होती है। इसमें से 46 लाख टन उपभोग और 60 लाख टन औद्योगिक उपयोग में आता है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top