हड़ताल के कारण केजीएमयू में तीन और मरीजों की मौत

हड़ताल के कारण केजीएमयू में तीन और मरीजों की मौतगाँव कनेक्शन

लखनऊ। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल दूसरे दिन मंगलवार को भी जारी रही। ट्रामा सेंटर की इमरजेंसी में आपातकालीन सेवाएं प्रभावित रहीं। इलाज न मिल पाने से तीन और मरीजों ने दम तोड़ दिया। हालांकि रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल के बाद वरिष्ठ डॉक्टरों ने कमान संभाली, लेकिन व्यवस्था पटरी पर नहीं आ सकी। इमरजेंसी वार्ड में बेड खाली पड़े रहे। 

शाहजहांपुर के एक मरीज भर्ती न हो सका ट्रामा के बाहर की दम तोड़ दिया। वहीं पहले से भर्ती बिहार की स्नेहा और जोधे की भी मौत हो गई। यूपीपीजीएमई की काउसलिंग का विरोध कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर सोमवार को तब हड़ताल पर चले गए थे जब उनके एक साथी को सिक्यूरिटी गार्ड ने पीट दिया था। इस बारे में केजीएमयू के कुलपति प्रो. रविकांत ने कहा, “रेजीडेंट्स ने हड़ताल की कोई सूचना नहीं दी थी।  सम्बंधित डीन हड़तालियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।” 

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.