हम राष्ट्रवाद से समझौता नहीं करेंगे: वित्त मंत्री

हम राष्ट्रवाद से समझौता नहीं करेंगे: वित्त मंत्रीGaon Connection

नई दिल्ली। बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के आखिरी दिन बीजेपी ने यूपीए सरकार पर बड़ा हमला बोला। प्रेस को संबोधित करते हुए अरुण जेटली ने आरोप लगाया कि आज देश में फैसला लेने वाली सरकार है, जिसका लक्ष्य सबका विकास करना है।

जेटली ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि देश में पहले दिशाहीन सरकार थी। हमारी सरकार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पक्ष में है। उन्होंने आगामी पांच राज्यों के चुनावों पर पार्टी की रणनीति के बाबत कहा कि पार्टी अपनी मौजूदगी बढ़ाने की कोशिश करेगी। उन्होंने कहा- हम पाचों राज्यों में अपनी स्थिति बेहतर करेंगे। असम में हमारा गठबंधन केंद्र में है और हम गठबंधन दल के नेता हैं। केरल में राजनीति बदल जाएगी। हम बंगाल में अपना वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने की कोशिश करेंगे।

उन्होंने कहा, ''देश तोड़ने की बात संविधान के खिलाफ है और हम राष्ट्रवाद से समझौता नहीं करेंगे।'' जेटली ने ये भी कहा कि पांच राज्यों में होने वाले चुनावों के लिए रणनीति तय हो गई है।

उन्होंने कहा, ''इशरत जहां मामले में देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ  कांग्रेस के समय में खिलवाड़ हुआ।'' भाजपा ने आज कहा कि राष्ट्रवाद की विचाराधारा से उसकी आस्था निर्देशित होती है और भारत में लोगों को ‘भारत माता की जय’ कहने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। ‘भारत माता की जय’ कहना बहस का मुद्दा नहीं हो 

जेटली जेटली ने कहा, “भाजपा का मानना है कि ‘भारत माता की जय’ कहना बहस का मुद्दा नहीं होना चाहिए। राष्ट्रवाद की विचारधारा हमारी आस्था और दिशा को निर्देशित करती है और हम अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का पूर्ण समर्थन करते हैं।”

सवालों के जवाब में उन्होंने कहा, “भारत का संविधान असहमति की पूर्ण स्वतंत्रता देता है लेकिन राष्ट्र के विनाश की नहीं। हमारा मानना है कि यह ऐसा मुद्दा है जिस पर बहस नहीं होनी चाहिए। जहां तक इस नारे का संबंध है, भारत के लोगों को इसे लेकर किसी तरह की कोई कठिनाई नहीं होनी चाहिए। कल ईडन गार्डन्स में आप इसका उदाहरण देख चुके हैं।“ यह विवाद एमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी के कुछ दिन पहले यह कहने से हुआ कि वह ‘जय हिन्द’ कहेंगे लेकिन अगर उनकी गर्दन पर कोई छुरी रख कर भी ‘भारत माता की जय’ बोलने को कहेगा, तो वैसा नहीं कहेंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top