UP Board Results 2017: बस थोड़ी ही देर में आयेंगें नतीजे, Upresults.nic.in पर करें चेक

Ashutosh OjhaAshutosh Ojha   9 Jun 2017 12:45 AM GMT

UP Board Results 2017: बस थोड़ी ही देर में आयेंगें नतीजे, Upresults.nic.in पर करें चेकप्रतीकात्मक फ़ोटो (साभार -नेट)

लखनऊ। आखिर अब खत्म होगा इंतजार यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के रिजल्ट (शुक्रवार, 9 जून) दोपहर करीब साढ़े बारह बजे एक साथ घोषित होंगें, इसका ऐलान आज यूपी बोर्ड की वेबसाइट पर कर दिया गया है। मतलब अब 10वीं-12वीं के विद्यार्थियों का इंतजार खत्म हो जाएगा। जिन छात्रों ने ये परीक्षा दी है वह अपना रिजल्‍ट upresults.nic.in पर जाकर चेक कर सकते हैं। इसके अलावा छात्र results.nic.in या results.gov.in पर रिजल्‍ट से जुड़ा अपडेट प्राप्त कर सकते हैं। छात्र- छात्राएं indiaresults.com या exametc.com पर जाकर भी अपना रिजल्‍ट देख सकते हैं।

इस बार 10वीं में 34,04,471 और 12वीं में 26,24,681 यानि कुल 60,29,152 लाख रेगुलर और प्राइवेट स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया था। परीक्षा परिणाम घोषित होने पर स्टूडेंट्स अपना रिजल्ट यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.upmsp.nic.in या upresults.nic.in पर लॉग इन कर देख सकते हैं। इसके अलावा results.gov.in के जरिए भी नतीजे देखे जा सकते हैं।

गौरतलब है कि पिछले वर्ष यूपी बोर्ड ने 10वीं-12वीं का रिजल्ट मध्य मई में जारी कर दिया था। लेकिन इस बार चुनावों के चलते परीक्षा कार्यक्रम में देरी हुई। इस बार 12वीं की परीक्षा 16 मार्च से 21 अप्रैल तक हुई थी जबकि हाईस्कूल की परीक्षा 16 मार्च से 1 अप्रैल तक चली थी। पहले घोषित कार्यक्रम के अनुसार हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 16 फरवरी से शुरू होने वाली थीं। लेकिन चुनावों के चलते चुनाव आयोग ने इस परीक्षा कार्यक्रम को टाल दिया था।

कैसा था पिछले साल का रिजल्ट

पिछले साल 10वीं में कुल 87.66 फीसदी विद्यार्थी पास हुए थे। लड़कियों ने 91.11 फीसदी के साथ परीक्षा में बाजी मारी थी, जबकि 84.22 फीसदी लड़के पास हुए थे। वहीं 12वीं में 87.99 विद्यार्थी पास हुए थे। इसमें 92.48 फीसदी लड़कियों ने तो 84.35 फीसदी लड़कों ने बाजी मारी। 12वीं में बाराबंकी की आरएलबी कॉलेज की छात्रा साक्षी वर्मा ने 98.20 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया था। वहीं 10वीं में चंदौली रायबरेली की सौम्या पटेल ने 98.67 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top