खबर का असर: किसानों को मिलेगा मुआवजा  

Divendra SinghDivendra Singh   13 July 2017 12:38 PM GMT

  खबर का असर: किसानों को मिलेगा मुआवजा  गोभी की फसल बर्बाद होने पर जिला उद्यान अधिकारी करायी जांच।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। गाँव कनेक्शन ने 31 मार्च को 'किसानों का आरोप नकली बीज से गोभी में समय से पहले फूल' शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। खबर प्रकाशित होने के बाद जिला उद्यान अधिकारी ने गाँव में खुद जाकर किसानों से जानकारी ली और मामले की जांच करायी। जल्द ही किसानों को मुआवजा मिल जाएगा।

कोटवा गाँव के किसान हरिओम मौर्या (40 वर्ष) बताते हैं, "गोभी की फसल में जल्दी फूल आने से हमारा काफी नुकसान हो गया था। पहले अधिकारी फसल देखने आए थे और आज बीज कंपनी वाले देखकर गए हैं। जिला उद्यान अधिकारी ने किसानों से जानकारी ली और मामले की जांच करायी। किसानों को जल्द ही मुआवजा दिया जाएगा।

लखनऊ जिला मुख्यालय से लगभग 30 किमी. दूर बख्शी का तालाब ब्लॉक के कोटवा गाँव के किसान हरिओम मौर्या (40 वर्ष) ने गोभी फसल लगायी थी, लेकिन कुछ ही दिनों में गोभी में फूल आ गए थे। उनके साथ ही पंद्रह और भी किसानों की बीस एकड़ में बारह से अधिक किसानों की फसल बर्बाद हुई थी।

31 मार्च को गाँव कनेक्शन में प्रकाशित हुई थी खबर।

गोभी की फसल में आमतौर पर साठ दिनों में फूल आते हैं, लेकिन यहां के दर्जनों किसानों की गोभी की फसल में बीस-तीस दिनों में ही अल्पविकसित अवस्था में फूल आ गए थे। इन सभी किसानों ने डालीगंज के गणपति सीड कंपनी प्राइवेट लिमिटेड बीज की दुकान से बीज खरीदा था।

जिला उद्यान अधिकारी डीके वर्मा कहते हैं, "गाँव कनेक्शन से जानकारी मिलने के बाद हमने खेत में जाकर जांच करायी है, जिसकी पूरी रिपोर्ट बन गयी है। रिपोर्ट उप निदेशक कृषि, उप निदेशक उद्यान, मुख्य विकास अधिकारी के साथ ही जिलाधिकारी को भी भेज दी गयी है। जल्द ही किसानों को मुआवजा मिल जाएगा साथ बीज विक्रेता, बीज कंपनी के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी।”

कोटवा गाँव के किसान हरिओम मौर्या (40 वर्ष) ने बताया, गोभी की फसल में जल्दी फूल आने से हमारा काफी नुकसान हो गया था। पहले अधिकारी फसल देखने आए थे और आज बीज कंपनी वाले देखकर गए हैं।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top