Top

इन कारणों से हो सकती है पैरों में ऐंठन

इन कारणों से हो सकती है पैरों में ऐंठनgaon connection

लखनऊ। कई बार रात में अचानक पैरों में दर्द और ऐंठन शुरू हो जाती है। आपको पैरों की पिंडलियों में या पैर में जो जकड़न महसूस होती है उसे ही लैग क्रैम्पस कहा जाता है। यह बहुत आम समस्या है। इसके अलावा यह दर्द आपकी नींद को पूरी तरह बर्बाद कर देता है। पैर में आने वाले इन क्रैम्पस के कारणों के बारे में बता रहे हैं लखनऊ के आर्थोपैडिक डॉ शुभ मल्होत्रा-

1. डिहाइड्रेशन

रात के समय पैरों में आने वाले क्रैम्पस का एक मुख्य कारण डिहाइड्रेशन हो सकता है। शरीर में पानी के कमी होने के कारण मांसपेशियों पर अधिक दबाव पड़ता है। इसके कारण आधी रात में पैर में क्रैम्पस आते हैं।

2. हाइपोथायराइडिज्म

इससे ग्रसित व्यक्तियों को अक्सर रात के समय पैर में क्रैम्पस आने की समस्या होती है। यह मांसपेशियों में क्रैम्पस, थकान और कमज़ोरी का एक मुख्य कारण हो सकता है।  

3. हाई ब्लड शुगर लेवल (रक्त शर्करा के स्तर का अधिक होना)

ब्लड शुगर का बढ़ा हुआ स्तर भी रात के समय पैर में क्रैम्पस आने का एक मुख्य कारण हो सकता है। इससे ग्रसित व्यक्तियों को इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है। अत: पैर में आने क्रैम्पस से बचने के लिए ज़रूरी है कि ब्लड शुगर के स्तर पर ध्यान रखा जाए।

4. थकान

अधिक श्रम के कारण मांसपेशियों में थकान आ जाती है जिसके कारण पैर में क्रैम्पस आते हैं। कभी कभी बहुत अधिक कसरत करने के कारण भी रात के समय पैर में क्रैम्पस आते हैं।

5. मांसपेशियों में थकान 

मांसपेशियों की कमज़ोरी या थकान के कारण भी रात के समय पैर में क्रैम्पस आते हैं। मांसपेशियों की कमज़ोरी कोई गंभीर बात नहीं है परंतु यदि यह यह समस्या स्थाई हो जाए तो यह किसी गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है।

6. पोटैशियम, सोडियम की कमी

पोषक तत्वों आवश्यक खनिजों जैसे पोटैशियम, सोडियम आदि की कमी के कारण भी रात के समय पैर में क्रैम्पस आ सकते हैं। किसी भी महत्वपूर्ण खनिज की कमी के कारण मांसपेशियों की कोशिकाओं पर दबाव पड़ सकता है। 

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.