इस बार केंद्रीय बज़ट आम जनता की राय से : राजवर्धन राठौड़

इस बार केंद्रीय बज़ट आम जनता की राय से : राजवर्धन राठौड़गाँव कनेक्शन

मेरठ। मेरठ-हापुड लोकसभा क्षेत्र में अपने दो दिवसीय कार्यक्रम पर मेरठ पहुंचे सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राजयवर्धन राठौड़ ने मंगलवार को सबसे पहले सदर क्षेत्र स्थित रंग महल में कार्यकर्ता सम्मेलन में अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चाहते हैं कि इस बार देश का बजट आम बजट बने 

उन्होंने कहा कि वह यहां प्रवास कार्यक्रम पर आए हैं। जिसमें उनके द्वारा पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ किसान,  छात्राएं युवा, उद्यमी, व्यापारी, चिकित्सक व खिलाड़ी आदि सभी वर्गों के लोगों के सीधा संवाद स्थापित कर उनसे बजट पर उनकी राय जानी जायेगी। वो सेना और ओलम्पिक के दौरान कड़ी मेहनत समझते थे लेकिन प्रधानमंत्री के मंत्रिमंडल में आकर वो समझ गए की कड़ी मेहनत क्या है।

आज उनके द्वारा मेरठ में एक आकाशवाणी केंद्र का शिलान्यास होना है। ऐसे में आज मेरठ में पहुँचते हुए उनके द्वारा कार्यकर्ताओ के साथ सम्मेलन किया गया।

सम्मेलन में उन्होंने केन्द्र सरकार की उपलब्धियां गिनाई। साथ ही उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाया कि इस बार केन्द्र सरकार बजट गरीबोन्मुखी होगा।

इसके बाद राठौड़ मेरठ गढ़ रोड स्थित गाँवों नंगलामल में आयोजित किसान चौपाल में पहुंचे। सांसद राजेन्द्र अग्रवाल व प्रदेश सचिव अश्वनी त्यागी सहित अन्य पदाधिकारियों ने केन्द्र सरकार की योजनाओं की चर्चा की। इसके बाद चौपाल की विधिवत् कार्रवाई करने का ऐलान किया गया।चौपाल में किसानो ने अपनी समस्याए गिनाई किसानों की पीड़ा सुनने के बाद केन्द्रीय राज्यमंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को किसानों के दर्द की चिंता है। मोदी के मन में बात आयी कि बजट दिल्ली में बैठे विद्वान ही क्यों बनायें। बजट में किसान, मजदूर, नौजवान और गरीब की भावनाओ का समावेश होना चाहिए। तभी प्रधानमंत्री ने सभी मंत्रियों को संसदीय क्षेत्रों में जाकर किसान, मजदूर, नौजवान और गरीब की पीड़ा का फीडबैक लाने को कहा।

इसी के तहत वह आज यहां पहुंचे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘किसानों का गुस्सा जायज है। केन्द्र सरकार ने किसानों के हित में कई योजनाएं लागू की हैं। किसी को दोष देना आसान है। मगर समाधान निकालना मुश्किल है। समाधान निकालने के सामूहिक प्रयास की जरूरत है। वह यहां मुखर हुई किसानों की समस्याओं और उनके सुझावों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक पहुंचायेंगे। कल राठौड़ मेरठ में आकाशवाणी केंद्र की नीव रखेंगे।

रिपोर्टर - सुनील तनेजा

Tags:    India 
Share it
Top