इस साल घाटी में हुई सीज़फायर उल्लंघन की 16 घटनाएं

इस साल घाटी में हुई सीज़फायर उल्लंघन की 16 घटनाएंइस साल घाटी में हुई सीज़फायर उल्लंघन की 16 घटनाएं

नई दिल्ली। भारत सरकार ने घाटी में हुए सीज़फायर उल्लंघन के आधिकारिक आंकड़े जारी किए हैं। केंद्र सरकार के मुताबिक़ इस साल लाइन ऑफ कंट्रोल पर सीज़फायर उल्लंघन की 16 घटनाएं हुईं। गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने राज्यसभा में ये जानकारी दी। 

सीज़फायर उल्लंघन की कब कितनी घटनाएं?

हंसराज ने बताया कि साल 2016 में जनवरी और फरवरी में जम्मू क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर और नियंत्रण रेखा पर सीज़फायर उल्लंघन की कोई घटना नहीं हुई। मार्च और अप्रैल में नियंत्रण रेखा पर एक-एक घटनाएं हुईं जबकि मई में ऐसी दो और जून में 10 घटनाएं हुईं। नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम उल्लंघन की कुल 14 घटनाएं इस साल जून तक हुईं। उन्होंने बताया कि जम्मू क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीज़फायर उल्लंघन की इस साल सिर्फ अप्रैल में दो घटनाएं हुईं।

एक सावल के लिखित उत्तर में अहीर ने बताया कि साल 2015 में जम्मू क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर संघर्षविराम उल्लंघन की कुल 253 घटनाएं हुई थीं जिनमें से सर्वाधिक 133 घटनाएं जनवरी में हुई थीं। उन्होंने बताया कि नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम उल्लंघन की वर्ष 2015 में कुल 152 घटनाएं हुई थीं।

अहीर ने बताया कि साल 2015 में सीमा पर से गोलाबारी और गोलीबारी होने की वजह से 16 नागरिकों की मौत हो गई थी, 71 घायल हुए थे और 72 मकान क्षतिग्रस्त हो गए थे। वर्ष 2015 के दौरान 1238 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर या राहत शिविरों में अस्थायी रूप से भेजा गया था। बहरहाल अंतरराष्ट्रीय सीमा या नियंत्रण रेखा के निकट रह रहे लोगों का कोई स्थायी विस्थापन नहीं हुआ है।

Tags:    India 
Share it
Top