इस्लामिक स्टेट में शामिल होने के लिए अमेरिकी को मिली 22 साल की सज़ा

इस्लामिक स्टेट में शामिल होने के लिए अमेरिकी को मिली 22 साल की सज़ाGaon Connection

न्यूयॉर्क (भाषा)। सीरिया में एफबीआई के मुखबिरों को इस्लामिक स्टेट में भर्ती करने की कोशिशों की वजह से एक अमेरिकी को 22 साल पांच महीने कैद की सजा सुनाई गयी है। न्यूयार्क में रोचेस्टर के मुफीद एल्फगीह (32 साल) ने दिसंबर में चरमपंथियों को साजोसामान मुहैया कराने के प्रयास का जुर्म स्वीकार कर लिया। अभियोजकों ने उसे आईएस के लिए भर्ती करने वाला ऐसा पहला व्यक्ति बताया है जिसे अमेरिका में पकड़ा गया है। अभियोजन पक्ष ने कल कहा कि एल्फगीह ने सोशल मीडिया पर आईएस के दुष्प्रचार को फैलाया, चरमपंथियों के लिए धन मांगा और भर्ती की कोशिश की और उन दो लोगों को आईएस के साथ लड़ने के लिए सीरिया भेजा जो एफबीआई के साथ सहयोग कर रहे थे।

इस व्यक्ति को उस दिन सजा सुनाई गई जिस दिन अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन केरी ने कहा कि आईएस समूह द्वारा ईसाइयों, यजीदियों और शियाओं को मारना नरसंहार है। न्यूयॉर्क के बुफेलो में एफबीआई के प्रमुख एडम कोहेन ने बताया, 'हम आश्वस्त हैं कि एल्फगीह को अगले दो दशक तक जेल में रखते हुए हम सुरक्षित रहेंगे।' उन्होंने कहा लेकिन आतंकवाद का हमेशा बदलते रहने वाला खतरा बरकरार है।

उन्होंने कहा, 'ऐसा खतरा एफबीआई और खुफिया समुदाय की सर्वोच्च प्राथमिकता में रहता है।' अभियोजकों ने बताया कि एल्फगीह ने आईएस के दुष्प्रचार वाले वीडियो एक लड़ाके को भेजे, इराक में फेसबुक के जरिये उस व्यक्ति के साथ संपर्क के लिए अंग्रेजी भाषी एक संपर्क की व्यवस्था की और पासपोर्ट हासिल करने में मदद के लिए उसे 40 अमेरिकी डॉलर का भुगतान भी किया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top